आरोपियों ने न्यायालय में आत्मसमर्पण किया

मारपीट तथा 10 लाख रुपयों की रंगदारी की मांग करने वाले आरोपियों ने पुलिसिया दबिश के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। वे घटना के बाद से ही फरार चल रहे थे।आत्मसमर्पण के बाद न्यायालय के आदेशानुसार उन्हें पुलिस अभिरक्षा में 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।
इस बाबत प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत 3 दिसंबर को डुमराँव के लालगंज कड़वी के रहने वाले अशोक कुमार राय पिता श्रीकांत राय ने डुमराँव थाने में नामजद प्राथमिकी दर्ज कराते हुए कहा था कि वह अपनी जमीन की बाउंड्री करा रहे थे, इसी बीच स्थानीय द्वारिका प्रसाद के तीन पुत्र प्रकाश चंद्र, राजीव कुमार तथा रवि सेठ चाकू और कट्टा से लैस होकर मौके पर पहुंच गए तथा गाली गलौज करते हुए 10 लाख की रंगदारी की मांग करने लगे। मामले को लेकर डुमराँव थाने में कांड संख्या 474/18 दर्ज कराया गया था। जिसमें तीनों आरोपी फरार चल रहे थे। बाद में बढ़ती पुलिसिया दबिश के कारण बुधवार को तीनों अभियुक्तों ने न्यायालय के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।
बक्सर बिहार से राघव कुमार पाण्डेय की रिपोर्ट

WhatsApp chat