MP में पुलिस को BJP नेता संजय यादव के घर से मिला हथियारों का जख़ीरा

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस प्रसाशन पूरी तरह मुस्तैद है. मध्यप्रदेश के बड़वानी ज़िले में पुलिस ने एक मकान में छापा मारकर भारी मात्रा में हथियार और हथगोले बरामद किए हैं. जानकारी के मुताबिक ये मकान बीजेपी नेता संजय यादव का है.

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस प्रसाशन पूरी तरह मुस्तैद है. मध्यप्रदेश के बड़वानी ज़िले में पुलिस ने एक मकान में छापा मारकर भारी मात्रा में हथियार और हथगोले बरामद किए हैं. जानकारी के मुताबिक ये मकान बीजेपी नेता संजय यादव का है.

पुलिस की इस विशेष मुहिम का उद्देश्य, आपराधिक और असामाजिक तत्वों की धरपकड़, अवैध हथियार और मादक पदार्थ के साथ-साथ अवैध धनराशि की जब्ती है. इसी के चलते मध्य-प्रदेश पुलिस प्रदेशव्यापी अभियान चला रही है. ताज़ा मामला बड़वानी ज़िले के सेंधवा का है जहां पुलिस ने निगरानीशुदा बदमाश संजय यादव के घर छापा मारा, जहां से पुलिस ने 10 पिस्टदल, 17 देशी बम और 111 कारतूस जब्त किए हैं.

घर में था हथियारों का जखीरा

बड़वानी एसपी यांगचेन डोलकर भूटिया ने बताया कि पुलिस ने 9mm की 6 पिस्टल, 32 बोर की 2 पिस्टल और 7.62mm की 2 पिस्टल समेत 111 ज़िंदा कारतूस बरामद किए गए हैं. बड़वानी एसपी ने बताया कि इस छापामार कार्रवाई के दौरान पुलिस ने 17 हथगोले भी बरामद किए गए हैं. एसपी यांगचेन डोलकर भूटिया ने बताया कि आरोपी संजय के खिलाफ आर्म्सल एक्टं एवं विस्फोलटक पदार्थ अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. पुलिस का कहना है कि आरोपी संजय यादव फिलहाल फरार है.

बीजेपी नेता है संजय यादव

पुलिस की मानें तो संजय यादव इलाके का निगरानीशुदा बदमाश है और उसपर पहले भी अलग-अलग मामलों में मामले दर्ज हो चुके हैं. जानकारी के मुताबिक संजय यादव बीजेपी नेता हैं और उसकी मां बसन्ती यादव सेंधवा नगर पालिका की अध्यक्ष हैं. बता दें कि पिछले साल हुए नगर पालिका चुनावों के लिए भाजपा ने अध्यक्ष पद के लिए संजय की मां बसंती यादव को टिकट था. इसके बाद विपक्षी कांग्रेस समेत 6 प्रत्याशियों ने एक-एक करके मैदान ही छोड़ दिया था. इतना ही नहीं बड़वानी जिले की कोर्ट में हुए बहुचर्चित गोलीकांड मामले में भी संजय यादव आरोपित है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है.

पुलिस ने कसी कमर

लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू होने के बाद से ही मध्यप्रदेश में अब तक बड़ी मात्रा में अवैध शराब और हथियार बरामद हो चुके हैं. निर्वाचन आयोग के मुताबिक लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने के बाद से 25 मार्च तक मध्यप्रदेश में कुल मिलाकर 7.60 करोड़ रुपए की अवैध शराब, नकदी और मादक पदार्थ समेत वाहन और हथियार जब्त किए जा चुके हैं.

WhatsApp chat