साध्वी प्राची सिंह को दो मामलों में मिली ज़मानत

 

मुज़फ्फरनगर। मुज़फ्फरनगर में दो लोगों की हत्या के बाद संजय बालियान व अन्य साथियों जो लाठी,तलवार,तबल लिए थे उनके साथ बिना अनुमति के सभा करने,उत्तेजक एवम साम्प्रदायिक भाषण देने तथा पुलिस के काम में बाधा पहुंचाने के 2013 के दो मामलों में अपर जिला शासकीय अधिवक्ता राजेश गुप्ता के विरोध के बावजूद विशेष जज एमपी एमएलए पवन कुमार तिवारी ने बागपत निवासिनी साध्वी प्राची सिंह को समर्पण करने के बाद ज़मानत पर रिहा कर दिया

दोनों मामलों में वादी एसओ सिखेड़ा मुज़फ्फरनगर चरण सिंह यादव ने दो अलग अलग एफ आईआर दर्ज कराई की दो युवकों गौरव व सचिन की 27 अगस्त 2013 को हुई हत्या के विरोध में धारा 144 दण्ड प्रक्रिया संहिता के लागू होने के बावजूद बिना अनुमति के हिन्दू समाज के लोगों द्वारा एकत्र होकर तलवार,लाठी,डंडा व तबल के साथ पुलिस द्वारा लगाई गई चेकिंग बैरिकेटिंग को तोड़ कर सभा स्थल भारतीय इंटर कॉलेज नंगला मंदौर व गगन पटरी जानसठ मार्ग पर संजय बालियान,साध्वी प्राची के भड़काऊ,उत्तेजक व साम्प्रदायिक व उन्माद फैलाने वाले भाषण दिए जिससे साम्प्रदायिक माहौल खराब हुआ साथ ही इनके उत्तेजक भाषण के बाद भीड़ ने किनारे खड़ी मोटर साइकिलों को आग लगा दी तथा शांति व्यवस्था में विध्न डाला,एक मुकद्दमा धारा 188,353,153क,435,351 आईपीसी व 7 क्रिमिनल ला एमेंडमेंट एक्ट तथा दूसरा धारा 188,353,341,आईपीसी व 7 क्रिमिनल ला एमेंडमेंट एक्ट में दर्ज हुआ था दोनों मुकद्दमों में अभी तक जमानतें नही कराई गई थीं,मंगलवार को एक आरोपी साध्वी प्राची के समर्पण करने पर उनकी जमानतें स्वीकार कर ली गई।

By-kailashsingh

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat