मोर्चरी में रखे महिला के शव को तीन दिन बाद भी अंतिम संस्कार का इंतजार

डूंगरपुर। डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल की मोर्चरी में रखा एक महिला का शव पिछले 3 दिन से अपने अंतिम संस्कार का इन्तजार कर रहा है । शव के अंतिम संस्कार को लेकर ना तो पीहर पक्ष राजी हैं और नहीं ससुराल पक्ष के लोग आए हैं। ऐसे में शव पड़ा-पड़ा सड़ रहा है। मामला सदर थाना क्षेत्र के देवल मनात फला का है।

दरअसल 14 दिसंबर को पार्वती मनात मीणा घर पर सुबह के समय चाय बना रही थी उस वक्त पार्वती के कपड़ों ने आग पकड़ ली और वह गंभीर रूप से झुलस गई। उसे डूंगरपुर अस्पताल लाकर भर्ती करवाया गया जहां हालत गंभीर होने पर उसे अन्यत्र रेफर कर दिया गया। गुजरात की हिम्मतनगर अस्पताल में इलाज के दौरान पार्वती ने दम तोड़ दिया। इसके बाद ससुराल पक्ष के लोग शव का पोस्टमार्टम करवाकर डूंगरपुर ले आए लेकिन यहां पीहर पक्ष ने मौत के कारणों को लेकर हंगामा कर दिया और शक जताया जिस पर शव को वापस पोस्टमार्टम के लिए डूंगरपुर अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया गया।

पीहर पक्ष के हंगामे और आरोपों के चलते ससुराल पक्ष भी शव को मुर्दाघर में छोड़कर ही भाग गए। इसके बाद से 3 दिन हो चुके हैं लेकिन दोनों ही पक्षों में से कोई भी अब तक वापस पोस्टमार्टम के लिए नहीं पहुंचा है। ऐसे में पुलिस भी परिजनों के आने का इंतजार कर रही है। इस मामले में सदर थाना के सब इंस्पेक्टर नरपत सिंह ने बताया कि महिला के शव को दोबारा पोस्टमार्टम करवाने के लिए एसडीएम के माध्यम से आदेश प्राप्त किए जा रहे हैं। इसके बाद दोनों पक्षों को बुलवाकर पुनः शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा ।

By-kailashsingh

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat