International Women’s Day 2019: जानिए क्यों मनाया जाता है महिला दिवस, क्या है इसके पीछे की कहानी

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पूरे विश्व में आठ मार्च को जोर-शोर से मनाया जाता है. इस दिन समाज निर्माण में योगदान देने वाली महिलाओं को सरकार और विभिन्न संगठनों द्वारा पुरस्कृत किया जाता है. यहां हम आपको बताएंगे आखिर क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस और क्या है इसके पीछे की कहानी.

International Women’s Day 2019: हर साल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस आठ मार्च को मनाया जाता है. इस दिन महिलाओं की समाज निर्माण में भूमिका और उनकी उपलब्धियों के बारे में चर्चा की जाती है. इन कार्यक्रमों में इस पर भी विचार किया जाता है कि महिलाएं जहां पिछड़ रही हैं वहां उन्हें कैसे मजबूत किया जाए.

बैलेंस फॉर बेटर है इस बार का थीम-
हर साल महिला दिवस का कोई न कोई थीम होता है. इस बार का थीम बैलेंस फॉर बेटर है. अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस सालों से मनाया जा रहा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसके मनाने के पीछे की मुख्य वजहें क्या हैं और यह आठ मार्च को ही क्यों मनाया जाता है. यहां हम आपको इस बारे में बताएंगे.1909 में पहली बार मनाया गया महिला दिवस-
दुनिया में सबसे पहले 28 फरवरी, 1909 को अमेरिका में महिला दिवस मनाया गया. अमेरिका में कपड़े की फैक्ट्री में काम कर रही महिलाओं ने 1908 में हड़ताल की थी. इस हड़ताल के खत्म होने के बाद महिलाओं के हौसले के सम्मान में तब 1909 में महिला दिवस मनाया गया था. हालांकि, पहली बार महिला दिवस 8 मार्च को नहीं मनाया गया था. आधिकारिक तौर पर 8 मार्च, 1975 को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की घोषणा संयुक्त राष्ट्र ने की थी.
1917 में रूस में मनाया गया था महिला दिवस-
अमेरिका में जहां 1909 में पहली बार महिला दिवस मनाया गया वहीं, रूस में 1917 में पहली बार महिला दिवस मनाया गया. रूस की महिलाओं ने 28 फरवरी को महिला दिवस मनाकर प्रथम विश्व युद्ध का विरोध किया था. इसके साथ ही 1917 में यहां कि महिलाओं ने रोटी और कपड़ों के लिए हड़ताल की थी. इसी हड़ताल के बाद यहां के ज़ार ने सत्ता छोड़ी और महिलाओं को वोट देने का अधिकार मिला.

महिला दिवस पर क्या होता है-
इस दिन महिलाओं के सम्मान में देशभर में कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. यहां पर महिलाओं के समाजिक योगदान को स्वीकारा और सराहा जाता है. उन्हें पुरस्कृत भी किया जाता है. महिला दिवस के दिन ऑफिस में, घरों में लोग महिलाओं को उपहार देते हैं. सरकार और सामाजिक संस्थाएं भी इस दिन कुछ महिलाओं को सम्मानित करती हैं.

WhatsApp chat