सम्पूर्ण भारत का 15 मार्च 2019 का मौसम पूर्वानुमान

सम्पूर्ण भारत का मौसमी सिस्टम

एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर के ऊपर बना हुआ है।

इसके प्रभाव से विकसित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र इस समय दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान, पंजाब और हरियाणा पर पहुँच गया है।

इसके अलावा पूर्वोत्तर भारत में असम पर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र सक्रिय है।

इससे एक ट्रफ रेखा उत्तरी झारखण्ड से पश्चिम बंगाल तक सक्रिय है।

एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र विदर्भ के ऊपर दिखाई दे रहा है। इससे एक ट्रफ रेखा मराठवाड़ा होते हुए उत्तरी आंतरिक कर्नाटक तक बनी हुई है।

बीते 24 घंटों की मौसमी घटनाएं

बीते 24 घंटों के दौरान, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फ़बारी के साथ हल्की बारिश दर्ज की गयी।

इसके अलावा, पंजाब और हरियाणा के उत्तरी भागों सहित पूर्वी मध्य प्रदेश में भी एक-दो जगहों पर गरज के साथ बारिश रिकॉर्ड हुई है।

उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश देखी गई। बिहार, झारखण्ड विदर्भ सहित तटीय ओडिशा के उत्तरी हिस्सों में भी एक-दो जगहों पर छुटपुट बारिश हुई है।

राजस्थान के पश्चिमी और दक्षिणी भागों सहित गुजरात और मध्य महाराष्ट्र के न्यूनतम तापमान में 1-2 डिग्री की गिरावट देखने को मिली है।

आगामी 24 घंटों के लिए मौसम का पूर्वानुमान

आगामी 24 घंटों में जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश के साथ बर्फ़बारी होने की संभावना है।

इसके अलावा पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, दिल्ली-एनसीआर, पश्चिमी और उत्तरी उत्तर प्रदेश सहित पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखण्ड और उत्तरी ओडिशा के भागों में गरज के साथ कुछ स्थानों पर बारिश दर्ज किए जाने के आसार हैं।

अरुणाचल प्रदेश में भी हल्की बारिश के साथ बर्फ़बारी दिख सकती है। जबकि असम में एक-दो जगहों पर गरज के साथ हल्की बारिश की संभावना है।

पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के हिस्सों में दिन के तापमान में गिरावट देखने को मिल सकती है।

 

WhatsApp chat