हिमाचल-उत्तराखंड में आज बादल फटने की आशंका, रात में हुई बर्फबारी

 

पहाड़ी राज्य हिमाचल, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बुधवार को बर्फबारी दो दिन से बर्फबारी हो रही है। निजी वेबसाइट स्काइमेट ने हिमाचल और उत्तराखंड में बादल फटने की आशंका जताई है। जम्मू-कश्मीर में गुरुवार को हुई ताजा बर्फबारी और भूस्खलन के चलते जम्मू-श्रीनगर हाइवे लगातार दूसरे दिन भी बंद है। वहीं, मध्यप्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई और ओले गिरे।

जम्मू-कश्मीर

भारी बर्फबारी की वजह से श्रीनगर एयरपोर्ट से गुरुवार को कई उड़ानें रद्द कर दी गईं। गोएयर और इंडिगो एयरलाइंस की सभी उड़ान, स्पाइसजेट की दो, एयरएशिया की एक और सेना के एक चार्टर्ड विमान की उड़ान को रद्द किया गया। उधर, रामसू-रामबन सेक्टर में भूस्खलन और बनिहाल में बर्फबारी के कारण जम्मू-श्रीनगर हाइवे बंद कर दिया गया है। इसकी वजह से घाटी में खाने-पीने की चीजों की कीमतें आसमान छू रही हैं।

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश में ग्वालियर के 20, सतना के चार गांवों में ओले गिरने और गुना, भिंड और भोपाल में बारिश होने से हवा में ठंडक घुल गई। मौसम वैज्ञानिक पीएन बिरवा के मुताबिक, उत्तर भारत में बने पश्चिमी विक्षोभ को बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से भी नम हवाएं मिलकर और प्रभावी बना रही हैं। राजस्थान के आसपास हवा का चक्रवाती घेरा बना हुआ है। इससे मौसम में तेजी से बदलाव हुआ है।

हिमाचल-उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश

स्काईमेट का अनुमान है कि उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में बादल फटने से बाढ़ जैसी स्थिति भी बन सकती हैं। हिमाचल, उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश के तराई वाले इलाकों में गुरुवार की सुबह बारिश हुई। अनुमान है कि आज और कल, यानी शुक्रवार को भी उत्तरप्रदेश में बारिश हो सकती है। राज्य में कुछ स्थानों पर ओले भी गिर सकते हैं।

हरियाणा

कुरुक्षेत्र, अम्बाला, यमुनानगर, पंचकूला और चंडीगढ़ में गुरुवार सुबह 6 बजे से तेज बारिश हुई। कुरुक्षेत्र, यमुनानगर, जींद, अम्बाला और पंचकूला में कुछ स्थानों पर ओले गिरे। पानीपत, करनाल में बूंदाबांदी हुई। शुक्रवार तक मौसम ऐसा ही रहने का अनुमान है। राज्य के कुछ हिस्सों में शुक्रवार और शनिवार को गहरी धुंध छा सकती है। 15 और 16 फरवरी को फिर एक बार बरसात के आसार हैं।

फिर शीत-लहर का अनुमान

पंजाब, हरियाणा, छत्तीसगढ़ और उत्तरी राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश सहित कई राज्यों में 8 और 9 फरवरी से शीतलहर चल सकती है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि ऐसे में इन राज्यों में ठंड फिर से लौट सकती है।

WhatsApp chat