भारत में चक्रवात ‘वायु’ का अलर्ट, चक्रवाती तूफान वायु गुजरात की तरफ बढ़ रहा है

चक्रवाती तूफान वायु गुजरात की तरफ बढ़ रहा है. इस बार तूफान का नाम भारत ने रखा है. पाकिस्तान मौसम विभाग ने बताया कि पाकिस्तानी तटों पर इसका ज्यादा असर नहीं होगा. लेकिन इसकी वजह से पाकिस्तान के तटीय इलाकों में हीट वेव (गर्मी) बढ़ सकती है. यह तूफान आगे जाकर कैटेगरी-3 का चक्रवात बन सकता है.

चक्रवाती तूफान वायु गुजरात की तरफ बढ़ रहा है. इस बार तूफान का नाम भारत ने रखा है. 12 से 13 जून के बीच यह सौराष्ट्र तट पर दस्तक दे सकता है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार अभी इसकी गति 80 से 90 किमी प्रति घंटा है. लेकिन सौराष्ट्र तट तक पहुंचते-पहुंचते यह 110 से 135 किमी प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ लेगा. वहीं, पाकिस्तान मौसम विभाग के विज्ञानी अब्दुर राशिद ने बताया कि पाकिस्तानी तटों पर इसका ज्यादा असर नहीं होगा. लेकिन इसकी वजह से पाकिस्तान के तटीय इलाकों में हीट वेव (गर्मी) बढ़ सकती है. यह तूफान आगे जाकर कैटेगरी-3 का चक्रवात बन सकता है.

अब्दुर राशिद ने बताया कि चक्रवाती तूफान वायु की वजह से अरब सागर में दबाव के क्षेत्र बनेगा. इसी वजह से पाकिस्तानी तटीय इलाकों में गर्मी बढ़ सकती है. अभी वहां 35 से 37 डि़ग्री तापमान है, जो बढ़कर 40 से 42 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है. ऐसा ही वाकया जून 2015 में भी हुआ था. इसकी वजह से कराची में पांच दिनों तक भयानक गर्मी पड़ी थी. रमजान के महीने में पड़ी गर्मी से पानी कि किल्लत हो गई थी. कराची में 3000 लोगों की मौत हो गई थी.

 

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat