ममता बनर्जी के बंगाल में मोदी के ये हैं महारथी, 28 सीटों पर बीजेपी की लिस्ट

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के बाद पश्चिम बंगाल देश का वो राज्य है जहां लोकसभा की सर्वाधिक 42 सीटें हैं। दिल्ली की कुर्सी तक पहुंचने के लिए जितना अहम यूपी है उतना ही पश्चिम बंगाल भी है। पिछले पांच सालों में बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में बहुत मेहनत की है। बंगाल में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी का सीधा मुकाबला है। बीजेपी को उम्मीद है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को पछाड़ कर आगे निकल जाएगें।

पहली लिस्ट में बीजेपी 28 उम्मीदवारों के नाम फाइनल कर दिए हैं जिसमें मोदी सरकार में मंत्री बाबुल सुप्रियो फिर आसनसोल से लड़ेंगे, वेस्ट बंगाल यूनिट के प्रेजीडेंट दिलीप घोष मिदानपुर से, वेस्ट बंगाल बीजेपी के फॉर्मर प्रेजीडेंट राहुल सिन्हा कोलकाता नॉर्थ से, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के पड़पोते चंद्र कुमार बोस कोलकाता साउथ से और टीएमसी छोड़कर बीजेपी में आए अनुपम हाजरा जाधवपुर से चुनाव मैदान में हैं।

सुभाषचंद्र बोस के प्रपौत्र चंद्र कुमार बोस ने पिछली बार पश्चिम बंगाल विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ वो बीजेपी के उम्मीदवार थे। एक बार फिर बीजेपी ने चंद्र कुमार बोस पर दांव लगाया है। बीजेपी को उम्मीद है कि इस बार वो पश्चिम बंगाल की 42 में 23 सीट पक्के तौर पर जीत जाएंगे जिसमें चंद्र कुमार बोस की सीट भी है।

तृणमूल कांग्रेस ने भी कुछ उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। तृणमूल कांग्रेस की मुनमुन सेन आसनसोल में बीजेपी के मंत्री बाबुल सुप्रियों को टक्कर देंगी। पिछली बार बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल की उम्मीदवार डोला सेन को 70 हजार से ज्यादा वोटों से हराया था।

इसके अलावा बीजेपी ने 23 और सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान किया जिसमें कूचविहार से निशीथ प्रमाणिक, अलीपुर द्वार से जॉन बारला, जलपाईगुड़ी से जयंत रे, रायगंज से देबोश्री चौधरी, बालुरघाट से सुकांता मजूमदार, मालदा उत्तर से खगेन मुर्मू, मालदा दक्षिण से श्रीरूपामित्र चौधरी, कृष्णनगर से कल्याण चौबे, बैरकपुर से अर्जुन सिंह, दमदम से शमिक भट्टाचार्य, जयनगर से डॉक्टर अशोक और मथुरापुर से श्यामाप्रसाद हलदर से चुनाव मैदान में हैं।

वहीं श्रीरामपुर से देबोजीत सरकार, हुगली से लॉकेट चटर्जी, आरामबाग से तपन रॉय, विष्णुपुर से सौमित्र खान, बर्द्धमान पूर्व से परेश चंद्र दास, बीरभूम से दूध कुमार मंडल और कोलकाता उत्तर से राहुल सिन्हा हैं। राहुल बीजेपी पश्चिम बंगाल के पूर्व अध्यक्ष हैं। राहुल ने कहा कि इस बार पश्चिम बंगाल में हवा बीजेपी के पक्ष में है।

बीजेपी से कड़ी टक्कर मिलने का अंदेशा दीदी को भी हो गया है इसलिए अपने उम्मीदवार उतारने से पहले दीदी फूंक फूंक कर कदम रख रही हैं। इसके अलावा बीजेपी ने ओडिशा की भी 10 सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। ओडिशा में लोकसभा की कुल 19 सीटें हैं। ओडिशा में बीजू जनता दल छोड़ बीजेपी में शामिल हुए  बैजयंत जय पांडा को बीजेपी ने केंद्र पाड़ा से उम्मीदवार बनाया है।

भुवनेश्वर से अपराजिता सारंगी, धेनकनल से रुद्र नारायण पैनी, बालासोर से प्रताप सारंगी और बालांगीर से संगीता कुमार सिंह देव को बीजेपी ने चुनावी मैदान में उतारा है। गठबंधन होने से हर राज्य में बीजेपी को कड़ी टक्कर मिल सकती है इसीलिए बीजेपी भी ऐसे उम्मदवारों पर बाज़ी लगा रही है जो उन्हें जीत दिला सकें।

WhatsApp chat