भारत विकास परिषद का तृतीय पूर्वी क्षेत्रीय महिला सम्मलेन संपन्न

 

मोतिहारी,3-3-19,अशोक वर्मा ।भाजपा जिला कार्यालय के सभागार मे आयोजित भारत विकास परिषद के तृतीय पूर्वी क्षेत्रीय महिला सम्मेलन का उद्घाटन ब्रह्मा कुमारीज के विहार झारखंड प्रभारी राजयोगिनी बीके रानी दीदी ने दीप प्रज्जवलित कर किया।अपने संबोधन मे उन्होंने कहा कि नारी को परमात्मा से उपहार मे विशेष शक्ति प्राप्त है।किसी भी  घर के तरक्की मे घर की नारी का विशेष योगदान रहता है।आज बदलते दौर मे  नारी अगर अपने वास्तविक स्वरूप मे रहे तो सभी का कल्याण होना तय है।जो गुण परमात्मा मे है वह तमाम गुण नारी को जन्म के साथ उसके अंदर समाहित रहता है।दया,क्षमा,करुणा,सहनशीलता यह सब नारी के आभूषण हैं।सिर्फ नारी को अपना आदि स्वरूप अगर याद रहे तो न सिर्फ उसका अपना घर स्वर्ग बन जायगा बल्कि उसके संपर्क और सानिध्य वाले सभी का कल्याण हो जायगा ।आज समाज मे धन बढ़े हैं तथा सूख के साधन बढे हैं,लेकिन घर से सूख शांति गायब हो चुके  हैं।हर कोई टेंशन मे रह रहा है।अगर टेंशन को अटेंशनमे बदल दिया जाय तो सभी  समस्याओं का समाधान हो जायेगा।ब्रह्मकुमारीज के सहज राजयोग और ईश्वरीय पढाई से लाखो लोग तनाव मुक्त हुए हैं।शुसुप्ता अवस्था के तमाम गुणों को राजयोग जागृत करता है।राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश चंद गुप्ताने कहा कि भारत विकास परिषद एक पारिवारिक संस्था है।यहां महिलाओं का मान उंचा है।संगठन की इच्छा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर कोई नारी आसीन हो।राष्ट्रीय सचिव मिथिलेश कुमार ने कार्यक्रम के रूप रेखा पर प्रकाश डाला।दो सत्रों के कार्यक्रम मे देश के कई प्रांत से प्रतिनिधियो ने भाग लिया।कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय मंत्री  गीता पटनायक ने कहा कि आज अपने विशेष गुण और दृढ़ इच्छा शक्तिके बदौलत नारी हर क्षेत्र मे सफलता का परचम लहरा रही है।संबोधित करने वालों मे श्रीमती अविनाश शर्मा ,राष्ट्रीय मंत्री चंपा श्रीवास्तव -राष्ट्रीय चेयरमैन भारत को जानो,डा०आर आर प्रसाद,उषा वर्मा प्रदेश अध्यक्ष ,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बाल्मीकि जी ,डा० एस एन पटेल आदि थे।कार्यक्रम  का संचलन सुमन सिंह ने किया।कार्यक्रम  के अंत मे रानी दंदी को राष्ट्रीय अधयक्ष ने गणशाल ओढाकर और मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

 

WhatsApp chat