नोएडा में खुले में नमाज पढऩे पर रोक ,एसएसपी के आदेश।

दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के नोएडा में अब खुले में नमाज पढऩे पर रोक लगा दी गयी है। इस मामले में गौतमबुद्धनगर के एसएसपी डॉक्टर अजय पाल शर्मा ने पत्र लिख कर कंपनियों को निर्देश दिया है। वरीय पुलिस अधीक्षक के आदेश का उल्लंघन होने पर कंपनियां दोषी होंगी और विधि सम्मत उनके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। बताया जा रहा है कि नोएडा के सेक्टर-58 में बिना अनुमति के नमाज पढऩे के बाद पुलिस ने ये आदेश जारी किया है। हालांकि यह आदेश किसी भी धार्मिक आयोजनों के लिए है।

एसएसपी अजयपाल शर्मा के मुताबिक, नोएडा सेक्टर 58 में खुले स्थानों पर धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लगाई गई है। इस नोटिस के संबंध में एसएसपी अजय पाल शर्मा का कहना है कि सेक्टर 58 में नोएडा प्राधिकरण का पार्क है। इस पार्क में धार्मिक आयोजन के लिए कुछ लोगों द्वारा इजाजत मांगी गई थी लेकिन इसकी इजाजत अभी तक सिटी मजिस्ट्रेट द्वारा जारी नहीं की गई है। इजाजत नहीं मिलने के बावजूद वहां भारी संख्या में लोग जुटे, ऐसे में उन्हें बताया गया कि आयोजन की इजाजत अभी भी नहीं दी गयी है। यही सूचना सभी कंपनियों को भी दी गई है।
इस मामले पर सफाई देते हुए एसएसपी का कहना है कि ये सूचना किसी धर्म विशेष के लिए न होकर सभी व्यक्तियों के लिए है। सभी से उम्मीद की जाती है कि गौतमबुद्धनगर पुलिस का सौहाद्र्र और शांति व्ययवस्था बनाए रखने में सहयोग करेंगे। हालांकि अभी तक इस मामले पर किसी प्रकार का कोई विरोध दर्ज नहीं कराया गया है।
अगर मामला तूल पकड़ता है तो स्थानीय स्तर पर विरोध की संभावना है। इस मामले में प्रशासन का कहना है कि कानूनन यह सही नहीं है कि बिना किसी अनुमति के आप आयोजन करें। यह सरकारी और गैर सरकार जमीन पर लागू होता है। बड़ी संख्या में जहां लोग जुटते हैं वहां कई प्रकार के खतरे होते हैं। इसलिए अलग से सुरक्षा के इंतजाम करने होते हैं।
 By-kailashsingh

WhatsApp chat