सभापति केके गुप्ता ने बताया कि पहाड़ी का तीन चरणों में होगा कार्य

 

डूंगरपुर। नगरपरिषद डूंगरपुर शहरवासियों
को एक और बड़ी सौगात देने जा रही है। नगरपरिषद डूंगरपुर के सभापति ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए 736 साल पुराने शहर की ऐतिहासिक धनमाता पहाड़ी का कायापलट करने का का निर्णय लेते हुए धनमाता पहाड़ी पर कार्य शुरू करा दिया है। कल तक वीरान पहाड़ी को आबाद करने को लेकर नगरपरिषद डूंगरपुर ने शहरवासियों को बहुत बड़ी सौगात देने जा रही है जिसमे पहले चरण में नगरपरिषद् डूंगरपुर 50 लाख रुपया खर्च करेंगी और दूसरे चरण में शहरवासियों के लिए बगीचा,झूले और म्यूजिकल फाउंटेन लगाकर इस पहाड़ी को जीवित कर देगी। साथ ही पहाड़ी पर जाने वाले रास्ते को सुगम बनाते हुए पार्किंग सहित कई सुविधाओं से सम्पन्न करने का निर्णय सभापति के.के.गुप्ता द्वारा लिए गए है। एक ऐसी पहाड़ी जो अपने ऐतिहासिक और प्राचीन मंदिर से शहरवासियों के लिए आस्था केंद्र बनी हुई थी उस पहाड़ी पर कई सालो से कोई काम नहीं होने ये पहाड़ी अब सिर्फ अपने अस्तित्व को संभाल कर बैठी है इस को पहाड़ी समाजकंटक लोगो ने अपना अड्डा बना कर रख छोड़ा था,पर पुरे शहर में स्वच्छता और सुंदरता का रंग घोलने वाली नगरपरिषद डूंगरपुर ने इस पहाड़ी को शहर का सबसे सुन्दर और आकर्षक स्थल बनाने जा रही है। जिससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।
ऐसी लगेगी पहाड़ी

शहर की ऐतिहासिक धन माता पहाड़ी जो समुन्द्र तल से लगभग 105 मीटर उचाई पर स्थित है इस पहाड़ी के सरंक्षण में नगरपरिषद डूंगरपुर ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए इस पहाड़ी को आबाद करने का निर्णय लिया है। नगरपरिषद सभापति के.के.गुप्ता ने बताया की नगरपरिषद डूंगरपुर ने अपने तीन साल के कार्यकाल में शहर के विकास और सौन्दर्य में कोई कमी नहीं आने दी है और आगे भी शहर के विकास और सौन्दर्य में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी इसी क्रम में हमने भीतरी शहर में शहर की ऐतिहासिक पहाड़ी को आबाद करने को लेकर पहाड़ी को दुल्हन की तरह सजाने का निर्णय लिया है। सभापति ने बताया की धनमाता पहाड़ी को 1 करोड़ की लागत से पूरी पहाड़ी को आकर्षक और दर्शनीय बनाया जाएगा जिसमे पहले चरण में 50 लाख रूपये खर्च किये जायेगे वही दूसरे चरण में 50 लाख रूपये खर्च करने का प्रावधान है। सभापति ने बताया कि धनमाता पहाड़ी पर बच्चो के लिए आकर्षक झूले,फव्वारे,सुन्दर बगीचा,पार्किंग सुविधा और रेस्टोरेंट सहित पहाड़ी पर जाने वाली सीढ़ियों को सुगम बनाया जाएगा साथ ही स्वागत द्वार और पहाड़ी पर भरपूर लाइट,पिकनिक स्पोर्ट की व्यवस्था की जायेगी

WhatsApp chat