छतरपुर कलेक्टर मोहित बुंदस ने जिलेभर के शस्त्र लाइसेंस रविवार से 25 मई तक के लिए किए निलंबित

 

छतरपुर जिला दंडाधिकारी मोहित बुंदस ने छतरपुर जिले में लोकसभा चुनाव 2019 में कानून व्यवस्था बनाए रखने और स्वतंत्र, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव कराए जाने के लिए आग्नेय शस्त्रों को निलंबित कर दिया है।

जिला दंडाधिकारी द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि जिले में निर्वाचन प्रक्रिया पूर्ण होने तक समस्त शस्त्र अनुज्ञप्तियां 10 मार्च से 25 मई तक निलंबित रहेंगी। कलेक्टर ने यह भी आदेश किया है कि आदेश दिनांक 10 मार्च से 7 दिवस की समयावधि में सभी आग्नेय शस्त्र अपने नजदीकी थाना में अवश्य रूप से जमा करवाए दिए जाएं।

आदेश इन पर नहीं होगा लागू पुलिस, मजिस्ट्रेट और शासकीय कर्मचारी, ड्यूटी पर कार्यरत आर्मी, विशेष सशस्त्र बल के अधिकारी-कर्मचारी, बैंकों द्वारा अधिकृत कैश वैन से नकदी ले जाने वाले गार्डों पर लागू नहीं होगा। बैंक के गार्ड और बैंकों द्वारा निजी एजेंसी से अनुबंधित गार्ड पर भी लागू नहीं होगा, लेकिन इन्हें ड्यूटी पश्चात संबंधित बैंक की शाखा में शस्त्र जमा करना अनिवार्य होगा।

WhatsApp chat