मालवा-निमाड़ सहित इंदौर, उज्जैन में लगातार दूसरे दिन सीवियर कोल्ड डे रहा

 

 

इंदौर : सोमवार रात इस सीजन की सबसे सर्द साबित हुई। न्यूनतम तापमान 7 डिग्री से गिरकर 5.6 डिग्री तक चला गया। यह सामान्य से 5 डिग्री कम आंका गया है। मौसम विभाग ने इसे शीतलहर भी घोषित कर दिया है। पिछले 45 दिनों को देखा जाए तो 10 ऐसे रहे जब तापमान 7 डिग्री तक रहा। 10 ऐसे रहे जब तापमान 8 से 10 डिग्री के बीच रहा। अगले दो दिन भी मौसम का मिजाज ऐसी रहेगा। फरवरी से तापमान में सुधार होने की उम्मीद है।

उज्जैन : उज्जैन में लगातार दूसरे दिन सीवियर कोल्ड डे रहा। सोमवार को दिन का तापमान 21.5 डिग्री दर्ज किया गया। रात का तापमान लुढ़ककर 6.2 डिग्री तक पहुंच गया। शहर में 8 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ठंडी हवा चली। यह लगातार तीसरा दिन जब दिन का तापमान 22 डिग्री से नीचे रहा। ठंड के कारण उज्जैन जिला प्रशासन ने मंगलवार के लिए सभी स्कूलों में कक्षा 8वीं तक की छुट्टी घोषित कर दी है। इसमें आंगनवाड़ी केंद्र भी शामिल हैं। कलेक्टर ने इस संबंंध में आदेश जारी कर दिए।

रतलाम : उत्तर से आ रही सर्द हवा से रतलाम, मंदसौर, नीमच, समेत प्रदेश भर में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। रतलाम में सोमवार को दूसरे दिन लगातार सीवियर कोल्ड डे रहा। रविवार रात तापमान 4.3 डिग्री पर पहुंच गया। मंदसौर में न्यूनतम तापमान 5.4 व नीमच में 4 डिग्री रहा। शीतलहर को देखते हुए रतलाम व नीमच जिला प्रशासन ने 8वीं तक के स्कूलों की छुट्‌टी घोषित कर दी।

 

खंडवा : शहरवासियों को लगातार चौथे दिन मंगलवार को भी सर्दी से राहत नहीं मिली। 24 घंटे में न्यूनतम तापमान में 3 डिग्री की गिरावट के साथ यह छह डिग्री पर पहुंच गया है। अधिकतम तापमान में भी 1 डिग्री की गिरावट के साथ 1 डिग्री गिरावट के साथ 21.5 दर्ज हुआ। कड़ाके की सर्दी को देखते हुए जिला प्रशासन ने मंगलवार को 8वीं तक सभी सरकारी और निजी स्कूलों में अवकाश घोषित किया है।

 

मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की बारिश और ओला गिने के बाद निमाड़ अंचल में शीतलहर चल रही है। मप्र के पूर्वी निमाड़ और पश्चिमी हिस्से में आने वाले ज्यादातर स्थानों पर रात और दिन के तापमान में गिरावट आने से ठंड और बढ़ गई है। मौसम विशेषज्ञ शैलेंद्र कुमार नायक के मुताबिक अगले दो दिन तक मौसम का रुख ऐसा ही रहेगा।

बुरहानपुर : जिले में न्यूनतम तापमान तीन डिग्री गिर गया। शीतलहर के प्रभाव से सरकारी अस्पताल में ओपीडी दोगुना हो गई। सोमवार को अस्पताल में 800 से ज्यादा मरीज पहुंचे। 25 जनवरी से अब तक तापमान में 6 डिग्री की गिरावट दर्ज हुई है। सोमवार को न्यूनतम तापमान 9 डिग्री और अधिकतम तापमान 23 डिग्री रहा। रविवार को अधिकतम तापमान 24 व न्यूनतम 12 डिग्री था। मौसम विभाग के अनुसार 30 जनवरी तक शीतलहर का प्रभाव रहेगा। इसके बाद तापमान में वृद्धि होगी।
धार : शहर में मंगलवार को भी लोग ठिठुरने को मजबूर हैं। सोमवार को दिन के तापमान में 0.8 और रात के तापमान में 0.1 डिग्री की आंशिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है। रविवार 27 जनवरी को न्यूनतम पारा 4.7 डिग्री पर जाकर ठहरा जो कि इस सीजन का सबसे ठंडे दिन के रूप में दर्ज हो गया। लोगों ने बढ़ती ठंड को देखते हुए स्कूलों में छुट्टी मांग की है।

झाबुआ : शहर एक बार फिर शीत लहर की चपेट में है। मंगलवार सुबह से ही ठंडी हवाओं ने लोगों को परेशान कर दिया है। इससे 24 घंटे में तापमान 3 डिग्री लुढ़क गया। सोमवार को 5 पर पहुंच गया। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 2 दिन तक ऐसी ही ठंड बनी रहेगी। हवा की गति 17 किमी प्रति घंटा रही। 26 जनवरी की रात का तापमान 11.6 डिग्री सेल्सियस था जो सोमवार रात 6.6 डिग्री गिरकर 5 पर आ गया। सोमवार इस 2019 का अब तक का सबसे ठंडा दिन रहा।

इन शहरों में चली शीतलहर : भोपाल, ग्वालियर, गुना, खजुराहो, शाजापुर, रतलाम, धार, खंडवा, राजगढ़, बैतूल, दमोह, सागर, नौगांव।

प्रदेश में इन 9 शहरों में रहे पाले जैसे हालात : बैतूल, दतिया, नौगांव व खजुराहो में रात का तापमान 3 डिग्री के आसपास रहा। गुना, सागर, दमोह, रतलाम व शाजापुर में पारा 4 डिग्री पहुंच गया। इन नौ शहरों में पाले जैसे हालात रहे, जिससे गेहूं-चने की फसलों को 25 फीसदी तक नुकसान हुआ है।

आगे क्या : मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिन में प्रदेश में कोल्ड वेव या सीवियर कोल्ड वेव जैसी स्थिति रहने का अनुमान है। उसके बाद हवा की दिशा बदल सकती है।

बर्फीली हवा की यह है वजह : वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि उत्तर भारत में कश्मीर घाटी में बर्फबारी के बाद वहां बर्फ पिघली है। उसके बाद वहां से बर्फीली हवा आ रही है। इस वजह से हमारे यहां रात के तापमान में गिरावट हुई। शीतलहर जैसे हालात बने और कड़ाके की ठंड पड़ रही है।

WhatsApp chat