मालवा-निमाड़ में ठंडी हवाओं ने किया ठिठुरने को मजबूर

 

 

इंदौर. मप्र में दिनोदिन ठंड के तेवर तीखे होते जा रहे हैं। प्रदेश सहित पूरे मालवा निमाड़ में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। इंदौर में जहां लगातार पारा 8 डिग्री के नीचे बना हुआ है, वहीं सबसे कम ठंड पड़ने वाले निमाड़ अंचल के खरगोन-खंडवा में भी पारा 10 डिग्री से नीचे पहुंच गया है। इंदौर में गुरुवार सुबह से चल रही शीतलहर के चलते लोग ठिठुरने को मजबूर हैं। आगर जिले में तो फसलों पर ओस की बूंदें जमने लगी हैं।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीएन बिरवा ने बताया कि महाकौशल, मालवा, ग्वालियर- चंबल के सभी इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। इंदौर में 15 दिसंबर के बाद से तीखे हुए हवा के तेवर अब भी जस के तस ही बने हुए हैं। एक दशक की ठंड में ऐसा नहीं हुआ जब लगातार पांच दिन कोल्ड रहे और शीतलहर भी चली हो। दरअसल, उत्तर भारत में बर्फबारी के कारण हवा का पैटर्न नहीं बदल रहा है। बर्फीली हवा के असर को कम करने के लिए नमी की भी कमी बनी है। कोई चक्रवात या कम दबाव का क्षेत्र भी निर्मित नहीं हो रहा जिससे बादल छा जाएं।

मालवा-निमाड़ के जिलों का हालउज्जैन : मप्र में बुधवार को मौसम के तेवर और सर्द रहे जिस कारण उज्जैन में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री दर्ज किया गया। दिसंबर में रात का तापमान पिछले दो साल का रिकॉर्ड तोड़ते हुए न्यूनतम 5 डिग्री तक जा पहुंचा। इसके पहले वर्ष 2015 में दिसंबर में इससे कम तापमान था।

शाजापुर : सर्दी को बढ़ाने-घटाने में जितनी असरदार शीतलहर साबित हो रही है, उतने ही चक्रवाती सिस्टम से कटकर छाए बादल। बीती चार रात में यह रात दूसरी बार तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। तापमान में गिरावट के चलते सुबह से फसलों पर फिर कुछ देरी के लिए ओस की बूंदें जमी दिखी। महज 5 किमी प्रति घंटे की गति से चली उत्तर-पूर्वी सर्द हवा का असर भी कम ही रहा। नतीजतन अधिकतम तापमान 25 डिग्री पर जा पहुंचा।

देवास : पांच साल में दिसंबर में बीती रात सबसे कम तापमान रहा। पारा लुढ़कते ही बुधवार को भी लोग समय से पहले ही घरों में दुबक गए। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले एक सप्ताह तक लोगों को सर्द हवा का सामना करना पड़ेगा। जो रात में लुढ़ककर 8 डिग्री सेल्सियस से नीचे जा पहुंचा।

रतलाम रतलाम में भी ठंड बरकरार है। रात का तापमान अभी भी 7 डिग्री पर बना हुआ है। बुधवार को दोपहर के तापमान में बढ़ोतरी देखने को मिली और यह 25.2 डिग्री तक पहुंच गया। मौसम वैज्ञानिक डॉ. डी. पी. दुबे ने बताया गुजरात पर ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है जो मप्र की तरफ मूव कर रहा है। अभी उत्तरी हवा चल रही जो पूर्वी हो जाएगी। रात का तापमान बढ़ेगा। लोगों को ठंड से रात मिलेगी। अगले दो दिन रात के तापमान में बढ़ोतरी का अनुमान है।

मंदसौर : उत्तर भारत में बर्फबारी के कारण पूरा जिला शीतलहर की चपेट में आ गया है। 4 दिन में न्यूनतम तापमान में 4 डिग्री से अधिक की गिरावट दर्ज हुई है। बीती रात न्यूनतम तापमान 8 डिग्री व अधिकतम तापमान 22.8 डिग्री दर्ज किया गया। लोग गर्म कपड़े पहनने के बाद भी ठिठुरते नजर आए। शीतलहर व तापमान घटने पर प्रशासन ने स्कूलों का समय भी बदल दिया है।

नीमच : उत्तर भारत में हो रही बर्फबारी से जिले सहित प्रदेश भर में शीत लहर के साथ तापमान लगातार नीचे जा रहा है। इस बार रात का तापमान 6 डिग्री तक पहुंच गया।

झाबुआ : शहर में ठंड रिकॉर्ड तोड़ रही है। यहां न्यूनतम तापमान 6 डिग्री पहुंच गया है। इस ठंड में पहली बार तापमान 6 डिग्री तक गया है। 10 साल में पहली बार ऐसा हुआ है कि दिसंबर के महीने की 20 तारीख के पहले तापमान 6 डिग्री तक पहुंच गया। 2009 से अब तक 20 दिसंबर या इसके बाद ही तापमान इतना नीचे गया है।

खंडवा : उत्तर-पूर्व में हो रही बर्फबारी के कारण दिसंबर में पांच साल बाद इतनी कड़ाके की ठंड पड़ रही है। बुधवार को पारा 9.4 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं दिन का पारा बढ़कर 24.4 डिग्री सेल्सियस हो गया। जबकि मंगलवार को न्यूनतम तापमान 10 डिग्री व अधिकतम 24.1 दर्ज किया था।
खरगोन : ठंड कम होने का नाम नहीं ले रही है। बुधवार के तापमान में फिर 0.2 डिग्री की गिरावट आई व 4.8 पर पहुंचा। यहां दिन का तापमान 26.2 डिग्री रहा, जो मंगलवार के मुकाबले 1.2 डिग्री ज्यादा है। बीते 9 दिनों से तापमान में लगातार गिरावट दर्ज हो रही है।

बड़वानी : हिमालय से आ रही सर्द हवा के कारण शहर में रात के तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। शहर में अभी रात का तापमान 11 व दिन का 26 डिग्री सेल्सियस पर चल रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है अभी दो दिन तक और ऐसा ही मौसम रहेगा लेकिन दो दिन बाद तापमान में वृद्धि होगी और ठंड से लोगों को राहत मिलेगी। अभी 12 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है।

 

WhatsApp chat