बालिका का पीछा करने वाले को कारावास

नरसिहपुर।  न्यायालय चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश नरसिंहपुर के न्यायालय द्वारा आरोपी भरत कौरव आत्मज सिब्बूलाल कौरव उम्र 21 वर्ष निवासी ग्राम नयाखेड़ा करेली को धारा 12 लै.अ. से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 में 01 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 3000/- रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।
मीडिया सेल प्रभारी राकेश रोशन के अनुसार अभियोक्त्री दिनांक 24.02.2016 को सुबह करीब 10.00 बजे सायकल से स्कूल के लिये गयी थी, सिमरिया नहर के पास आरोपी भरत कौरव आया और बुरी नियत से अभियोक्त्री का रास्ता रोककर कहा कि अकेले क्यों जा रही हो, मेरे साथ चलो जिस पर अभियोक्त्री ने कहा कि तुम्हारे साथ क्यों जाऊं और पापा को बुलाने का कहकर स्कूल चली गई, तो आरोपी अभियोक्त्री के पीछे-पीछे स्कूल तक आ गया, अभियोक्त्री के पीछा करने से मना करने पर आरोपी ने कहा तुम मुझे 04.00 बजे सायं को नहर के पास मिलना मैं तुम्हे देख लूंगा कहकर चला गया। अभियोक्त्री ने अपने पिता को फोन करके स्कूल बुलाया और घटना बताई। घर जाकर अपनी मां एवं बड़ी मां को घटना बताई, और थाना जाकर रिपोर्ट लेखबद्ध कराई। माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी को दोषसिद्ध पाते हुये दण्डित किया गया। अभियोजन की ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक श्री विनोद परोहा द्वारा की गई।
संवाददाता आकाश कौरव

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat