1972 से अब तक व्यवस्थित है नगर का ऐतिहासिक हॉकी स्टेडियम

नरसिहपुर। नगर का ऐतिहासिक हॉकी स्टेडियम जिसको  बने  50 वर्ष पूर्ण होने वाले हैं।  इस मैदान से निकले अनेक खिलाडियों ने प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर पर जिले का नाम रोशन किया है।  इस हॉकी स्टेडियम के उद्घाटन अवसर पर 1972 में  भारत  व फ्रांस के मध्य  मैच   खेला गया था, इस मैच को कराने में भारत सरकार के तत्कालीन केन्द्रीय मंत्री चौ. नीतिराज सिंह का विशेष सहयोग रहा था। साथ ही स्टेडियम का निर्माण  शासन प्रशासन ने जिले के  प्रतिष्ठित परिवारों व समाजसेवियों के सहयोग से किया गया था । जिसमें मुख्य रूप से  स्टेडियम के निर्माणकर्ता व मुख्यदानकर्ता  संतराम  ठेकेदार रहे।  जिन्होंने अपनी देखरेख में मजबूत निर्माण कार्य करवाया आज इतने वर्षों तक इनके मजबूत स्तंभ व दीवाल अपनी मजबूती का परिचय दे रही हैं। नरसिंहपुर हॉकी एकेडमी अकादमी को भी उनका हमेशा सहयोग मिलता रहा ,हॉकी एकेडमी सहयोग के लिए उनका धन्यवाद व सम्मान करती रही है।
वहीं दूसरी और पिछले 50 वर्षो से लगातार  लोग इस मैदान का लाभ उठा रहे हैं। स्थानीय इस हॉकी स्टेडियम में सुबह शाम रौनक देखी जा सकती है साफ-सुथरा मैदान, पानी की व्यवस्था, लाइट व्यवस्था ,जहां पर सैकड़ों सीनियर सिटीजन ,लड़की -लड़कियां व सरकारी अधिकारी कर्मचारी आमजन अपने परिवार के साथ टहलने आते हैं और अपने आप को सुरक्षित महसूस  करते हुए  स्वास्थ्य लाभ लेते हैं। इतना जरूर है कि बीच के वर्षो में स्टेडयम पर किसी ने ध्यान नही दिया ओर लोग  स्टेडियम  में व्याप्त गंदगी व अव्यस्थाओं से परेशान रहते थे किन्तु पिछले 8 वर्षो से  हॉकी अकादमी  ने सभी के सहयोग से  मैदान का पुनः निर्माण व हॉकी खेल को पुनः जीवित किया  एवं यह सभी के सहयोग व प्रयासों से संभव हुआ । जिसमें जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी, खेल विभाग एंव पत्रकारों ने महत्वपूर्ण सहयोग दिया।  साथ ही जिले का खेल विभाग सदैव खिलाडियों के प्रोत्साहन के लिए कदम उठाता रहता है। समय पर खिलाडियों को कीट व अन्य जरूरी सामग्री खेल विभाग उपलब्ध कराता है। हॉकी अकादमी के संस्थापक राजकुमार चौबे ने बताया कि हॉकी स्टेडियम ग्राउन्ड   निर्माण के 50 वर्ष पूर्ण हाने पर कुछ दिनों बाद   स्वर्ण जयंती समारोह आयोजन  का आयोजन किया जायेगा। श्री चौबे ने अपेक्षा की है कि इस समारोह में सभी का रचनात्मक सहयोग प्राप्त होगा।  संवाददाता आकाश कौरव

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat