State News: (बुरहानपुर) एम्बुलेंस 108 में महिला का प्रस्ताव

बुरहानपुर। स्वास्थ विभाग सुविधाओं को लेकर कितने ही दावे कर ले पर उसमें सुधार नही आ रहा है, समय पर एम्बोलेंस वाहन नही पहुंचने और प्रस्व पीडा के चलते एम्बोलेंस में प्रस्व पीडा के चलते एम्बोलेंस में प्रस्व होने के अनेक मामले सामने आ चुके है, जिस में अनेक बार प्रसुता और नवजात के मरने की भी घटनाऐं सामने आ चुकी है पर सुधार के नाम पर कुछ नही, शुक्रवार को भी ऐसा ही एक मामला दर्यापुर ग्राम के ढाबा में सामने आया जहां रामापति आमीर को प्रस्व पीडा होने के चलते परिजनो ने एम्बोलेंस 108 को फोन किया लंबे इंतेजार के बाद एम्बोलेंस तो पहुंची परंतु चिकित्सालय पहुंचते उससे पूर्व ही महिला को प्रस्व पीडा बढने से बीच रास्ते में ही ईएमटी और आशा कार्यकर्ताओं को महिला का प्रस्व एम्बोलेंस में कराने पर मजबूर होना पडा।

यह तो गनीमत की प्रस्व के पश्चात जच्चा और बच्चा ठीक रहे जिन्हें डोईफाडिया के प्रार्थमिक स्वास्थ केन्द्र में लाकर भर्ती कराया गया सरकार के द्वारा संस्थागत प्रस्व पर जोर तो दिया जा रहा है, परंतु गर्भवती महिलाओं को समय रहते चिकित्सालय पहुंचाने की व्यवस्था चुस्त व दुरूस्त नही होने से अनेक मामलो में जच्चा और बच्चा की जान पर बन आती है, क्या विभाग इस व्यवस्था को सुधारने में कोई नई पहल करेगा ताकि गर्भवती महिला समय से पहले स्वास्थ केन्द्र पहुंच सके।

WhatsApp chat