लखीमपुर खीरी- यहाँ तो बिन नक़्शे के ही घरों में बन रही है मार्केट, सम्बन्धित अधिकारी मौन ।

लखीमपुर खीरी। प्रशासन के सामने सदर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत चलता रहता है अवैध निर्माण कार्य परन्तु संबंधित विभाग और अधिकारी अनजान रहते है।

बताते चलें कि लखीमपुर शहर में इन दिनों घरों को तुड़वाकर एवं सम्बन्धित विभाग में बिना नक्शा पास कराये ही मार्केट बनवाने का चलन ज़ोरों पर है। शहर के मोहल्ला थरबरनगंज,नई बस्ती,हाथीपुर के साथ साथ लगभग हर एक मोहल्ले में खुले आम बिना किसी विधिक पर्क्रिया को अपनाए घरों में ही दुकान व मार्केट का बनवाना जारी है परन्तु इसके बाद भी संबंधित विभाग ने अवैध निर्माण करने वालो पर कोई कार्रवाई नहीं की।

कुछ वर्ष पहले तक जहां सिर्फ घर होते थे आज उन्हीं मोहल्लों में घरों में नीचे मार्केट और ऊपर घर बनवा लिया गया परन्तु उसका कोई नक्शा नहीं बनवाया जाता है जिससे अतिक्रमण के साथ साथ दूसरों की भूमि पर क़ब्जा होना आम बात हो गई है। इसके साथ ही साथ जहां मार्केट बनवाई गई है वहा टैक्स की चोरी भी खुलेआम हो रही है क्योंकि उक्त मकान की रसीद तो पहले ही काटी जाती थी लेकिन मार्केट बन जाने के बाद उसका कॉमर्शियल टैक्स नहीं भरा जाता और ना ही विद्युत विभाग से उसका कॉमर्शियल बिल अप्लाई किया जाता है। चेकिंग के दौरान आपस में समझ के मामले को निपटा भी दिया जाता है। इसका उदाहरण कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत मोहल्ले में देखने को बड़ी आसानी से मिल जाएगा जहां घरों में नियम के विरूद्ध मार्केट बनवा ली गई और नक्शा विभाग के साथ साथ संबंधित विभाग और विद्युत विभाग को भी चुना लगाया जा रहा है।
अतिक्रमण कर के बिना नक्शों के जो घरों में दुकानें बनवाई गई है उसमें पार्किंग नाम की कोई जगह ही नहीं छोड़ी जाती है जिससे दुकान में आने वाले ग्राहकों की गाड़ियां रोड पर खड़ी होती है फलस्वरूप शहर जाम के झाम में फस जाता है और फिर संबंधित विभाग का डंडा पटरी दुकानदरों पर चलता है परन्तु अवैध ढंग से निर्माण करने वालो पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है।

रिपोर्ट : मो. तलहा हसन.
लखीमपुर, उत्तर प्रदेश.

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat