पुलवामा हमले में जैश के रोल को PAK ने नकारा, कहा- जिम्मेदारी ली ही नहीं

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विदेशी मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि पुलवामा हमले के लिए जैश जिम्मेदार नहीं है. शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि जो जैश द्वारा इस हमले की जिम्मेदारी लेने की बात कही जा रही है इसमें कन्फ्यूजन है. उन्होंने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

पाकिस्तान ने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के रोल को छिपाने की नाकाम कोशिश की है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विदेशी मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि पुलवामा हमले के लिए जैश जिम्मेदार नहीं है. शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि जो जैश द्वारा इस हमले की जिम्मेदारी लेने की बात कही जा रही है इसमें कन्फ्यूजन है. उन्होंने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

कुरैशी ने कहा, “नहीं उन्होने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, इसमें एक भ्रम की स्थिति है, भ्रम ये है कि जैश के नेतृत्व ने इस मामले में ऐसा नहीं कहा है.” शाह महमूद कुरैशी से जब एक इंटरव्यू के दौरान पूछा गया कि हमले के बाद जैश ने खुद ही कहा था कि वे इसके लिए जिम्मेदार हैं.  इसके जवाब में कुरैशी ने कहा कि उन्होंने कोई जिम्मेदारी नहीं ली है. इसपर विरोधाभास की स्थिति है. विदेशी मीडिया के साथ इंटरव्यू के दौरान उन्होंने पूरी तरह से जैश को बचाने की कोशिश की. बता दें कि पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. इस हमले के तुरंत बाद जैश ने एक वीडियो जारी कर इस हमले की जिम्मेदारी ली थी.

बता दें कि शुक्रवार को शाह महमूद कुरैशी ने सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में माना था कि जैश का सरगना मौलाना मसूद अजहर पाकिस्तान में ही मौजूद है. कुरैशी ने कहा था मौलाना मसूद अजहर बेहद बीमार है, उसकी बीमारी का आलम ये है कि वो अपने घर से निकल नहीं सकता है. उन्होंने कहा था कि अगर भारत मौलाना मसूद अजहर के खिलाफ ऐसे सबूत देता है जो पाकिस्तान की अदालत को मान्य हो तो पाकिस्तान मसूद अजहर पर कार्रवाई करेगा.

शाह महमूद कुरैशी ने बहावलपुर स्थित मदरसे का जिक्र करते हुए कहा कि भारत और दुनिया के कुछ देश उस मदरसे को ट्रेनिंग कैंप का नाम दे रहे हैं. कुरैशी ने कहा कि वहां एक मदरसा है, मीडिया को वहां ले जाया गया था और उन लोगों ने जो देखा वो दुनिया के सामने हैं.

कुरैशी ने एक बार फिर से पाकिस्तान के पुराने झूठ को दोहराते हुए कहा कि पाकिस्तान में नई सरकार है और हमारी नई नीति है कि हम अपनी धरती का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए नहीं होंगे देंगे. चाहे वो भारत ही क्यों न हो.

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat