पाकिस्तान को यूरोप से भी ज्यादा स्वच्छ बनाने की कसम खाई

प्रधानमंत्री ने कसम खाई कि वह पांच सालों में देश को ‘यूरोप से ज्यादा साफ’ बना देंगे. उन्होंने कहा, ‘इसे संभव बनाने के लिए हमें अपनी सोच में भी बदलाव लाना होगा.’

प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को पाकिस्तान में स्वच्छता संबंधी स्थितियों को सुधारने के लिए आधिकारिक तौर पर एक अभियान की शुरुआत करते हुए कसम खाई कि वह देश को ‘यूरोप से भी अधिक स्वच्छ’ बनाएंगे.

रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक, खान ने इस्लामाबाद के मॉडल गर्ल्स कॉलेज में ‘स्वच्छ एवं हरित पाकिस्तान’ अभियान में भाग लिया और एक पौधा लगाया.

इस अवसर पर खान ने छात्रों और युवाओं से अपील की कि वे इस अभियान के अगुआ बनें क्योंकि यह देश के भविष्य से जुड़ा हुआ है.

प्रधानमंत्री ने कसम खाई कि वह पांच सालों में देश को ‘यूरोप से ज्यादा साफ’ बना देंगे. उन्होंने कहा, ‘इसे संभव बनाने के लिए हमें अपनी सोच में भी बदलाव लाना होगा.’

उन्होंने इस ओर ध्यान दिलाया कि ‘पर्यावरण के संरक्षण और पृथ्वी के बढ़ते तापमान से निपटने के लिए पौधारोपण अति आवश्यक है.’

खान ने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग के लिहाज से पाकिस्तान सातवां सबसे संवेदनशील देश है. उन्होंने उल्लेख किया कि लाहौर उन शहरों में शामिल है जहां प्रदूषण का स्तर बहुत अधिक है. उन्होंने दावा किया कि उनकी पार्टी की सरकार ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में अरबों पौधे लगाए हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने अब देशभर में 10 अरब पौधे लगाने का लक्ष्य रखा है जिससे मौसम की पद्धति में बदलाव आएगा.

खान ने कहा कि स्वच्छता अभियान के तहत मल-प्रवाह एवं स्वच्छता प्रणालियों को न सिर्फ शहरों बल्कि बस्तियों एवं गांवों में भी में सुधारा जाएगा. उन्होंने कहा कि ठोस कचरे के निस्तारण के लिए गांव से लेकर तहसील स्तर तक कूड़ा डालने के स्थानों की पहचान की जाएगी. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को साफ एवं हरा-भरा बनाने के लिए छात्रों के ओर से प्रयास किए जाने की जरूरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat