Breaking News

सात दिन की तेजी के बाद शेयर बाजार पर लगा ग्रहण, सेंसेक्स 288 अंक टूटा, रिलायंस से शेयरों में 1.5% गिरावट

घरेलू शेयर बाजार में पिछले सात दिनों से जारी तेजी का दौर आज थम गया। कमजोर विदेशी रुख और मुनाफावसूली के कारण यह गिरावट आई। मार्केट कैप के हिसाब से की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज में 1.5 फीसदी और नेस्ले में तीन फीसदी गिरावट आई। जानिए किन शेयरों में रही तेजी..

नई दिल्ली: स्थानीय शेयर बाजार में पिछले सात कारोबारी सत्रों से जारी तेजी पर मंगलवार को विराम लग गया और बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) 287.70 अंक टूटकर बंद हुआ। यूरोपीय बाजार के मिले-जुले रुख और एशियाई बाजार में गिरावट के बीच वित्तीय कंपनियों के शेयर में नुकसान से बाजार नीचे आया। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 287.70 अंक यानी 0.48 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,543.96 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 60,081.24 अंक के उच्चस्तर तक गया और 59,489.02 के निचले स्तर तक आया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 74.40 अंक यानी 0.42 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,656.35 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के शेयरों में नेस्ले इंडिया (Nestle India), हिंदुस्तान यूनिलीवर (Hindutan Unilever), बजाज फिनसर्व (Bajaj Finserv), कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank), एचडीएफसी (HDFC), रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries), बजाज फाइनेंस (Bajaj Finance) और एशियन पेंट्स (Asian Paints) प्रमुख रूप से नुकसान में रहे। देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज में 1.5 फीसदी और नेस्ले में तीन फीसदी गिरावट आई।
दूसरी तरफ टेक महिंद्रा (Tech Mahindra), मारुति (Maruti), लार्सन एंड टुब्रो (Larsen and Tubro), डॉ रेड्डीज (Dr Reddy’s), भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और एनटीपीसी (NTPC) के शेयर मजबूती लेकर बंद हुए।

दूसरे बाजारों का हाल
एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग गिरावट में रहे, जबकि जापान का निक्की लाभ लेकर बंद हुआ। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में मिला-जुला रुख रहा। अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट सोमवार को बढ़त में बंद हुआ। हिंदू संवत वर्ष 2079 की शुरुआत के मौके पर विशेष एक घंटे के मुहूर्त कारोबार के दौरान बीएसई सेंसेक्स 524.51 अंक चढ़कर 59,831.66 पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 154.45 अंक या 0.88 प्रतिशत की तेजी दर्शाता 17,730.75 पर बंद हुआ था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.27 प्रतिशत की गिरावट के साथ 92.08 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 153.89 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।