हिन्दुओ की जनसँख्या बढाने के लिये पुरे देश में सर्वोच्च आध्यात्मिक शक्ति माँ बगलामुखी के 108 नौ दिवसीय महायज्ञ आयोजित करेगा

हिन्दुओ की जनसँख्या बढाने के लिये पुरे देश में सर्वोच्च आध्यात्मिक शक्ति माँ बगलामुखी के 108 नौ दिवसीय महायज्ञ आयोजित करेगा नई केंद्रीय सरकार के गठन के पहले दिन से ही कठोर जनसँख्या नियंत्रण कानून के लिये शिवशक्ति धाम डासना में आमरण अनशन आरम्भ करेंगे यति नरसिंहानन्द सरस्वती जी महाराज.

आज अखिल भारतीय संत परिषद के राष्ट्रीय संयोजक यति नरसिंहानन्द सरस्वती जी महाराज एक प्रेस वार्ता के माध्यम से सारे विश्व के हिन्दुओ से हिन्दुओ की अंतिम शरणस्थली भारतवर्ष में हिन्दुओ को बचाने के लिये एकजुट होने का आह्वान किया।

उन्होंने प्रेस वार्ता में बताया की आज पूरे विश्व में हिन्दू सबसे ज्यादा असुरक्षित कौम बन चुकी है।सबसे ज्यादा हिन्दू दूसरे संप्रदाय के कट्टरवादी तत्वों के हाथों से मारे जा रहे हैं और पूरी दुनिया में कहीँ भी इस बात की कोई चर्चा तक नहीँ है।ऐसा धार्मिक समूह जिसने सदैव ही मानवीय मूल्यों और मानवता की रक्षा की हो,उसके साथ यह अत्याचार बहुत ही चिंता का विषय है परंतु इसका दोष किसी और को नहीँ दिया जा सकता।अपने धर्म और शाश्वत सिद्धांतो से विमुख होकर पाखण्ड को धर्म समझने के कारण ही हिन्दू समाज की आज ये दुर्गति हुई है।अपने अस्तित्व को बचाने के किया अब एक बार फिर हिन्दू को सनातनी बनना पड़ेगा।जब हम शिव और शक्ति को समझ कर उनकी पूजा अर्चना किया करते थे तो पूरे विश्व में केवल सनातन धर्म ही था।समय समय पर अनेक राक्षस सभ्यताएं हमे मिटाने के लिये खड़ी हुई पर हमने उन्हें परास्त किया परन्तु जबसे रोज रोज नए देवी देवता पूजे जाने लगे तब से हम बिलकुल बर्बाद हो गए और हमारी बहन बेटियो को हजार साल मंडियों में बिकना पड़ा।

उन्होंने कहा की आज हिन्दू समाज कायरता और अकर्मण्यता का शिकार होकर अपना अस्तित्व खोने के कगार पर है।आज हिन्दुओ का घटता हुआ जनसँख्या अनुपात सनातन धर्म के समूल विनाश का कारण बनेगा।हिन्दू समाज सारे खतरों से अनभिज्ञ होकर एकदम सुप्त पड़ा हुआ है।आज हिन्दू राजनीति, जातिवाद और व्यक्तिगत स्वार्थ के नशे में इतना चूर हो चूका है की अब उसे अपने अच्छे बुरे,मित्र और शत्रु की कोई पहचान ही नहीँ रही है।हिन्दू समाज को प्रमाद की इस स्थिति से निकालने के लिये डासना का शिवशक्ति धाम पुरे भारतवर्ष में जगह जगह सर्वोच्च आध्यात्मिक शक्ति,विजय और सद्बुद्धि की देवी माँ बगलामुखी के 9 दिवसीय 108 महायज्ञ आयोजित करेगा ताकी माँ बगलामुखी हिन्दुओ को सद्बुद्धि और धर्म की रक्षा करने योग्य संतान प्रदान करें।

उन्होंने कहा की इस समय हिन्दुओ की सबसे बड़ी जरूरत “हम दो,हमारे एक या दो” बन चुकी है।इस बीमारी को दूर करें बिना हिन्दुओ का अस्तित्व बच ही नहीँ सकता।अगर हिन्दुओ ने इस बीमारी को ठीक कर लिया तो हिन्दुओ को किसी नेता के हाथ नही जोड़ने पड़ेंगे की देश में कठोर जनसँख्या नियंत्रण क़ानून बनाओ बल्कि नेता हाथ जोड़ेंगे की जनसँख्या नियंत्रित करो।

उन्होंने बताया की इस श्रृंखला का सबसे पहला महायज्ञ कविनगर के सी ब्लॉक के स्वयम्भू शिव मंदिर में 23 मार्च से 31 मार्च तक किया जायेगा।उन्होंने सारे हिन्दू समाज से शिवशक्ति धाम डासना के इस महान आयोजन में जुटने का आह्वान किया।
प्रेस वार्ता डॉ आर के तोमर,आचार्य दीपक तेजस्वी,मनोज योगी,सतेंद्र त्यागी,अरुण त्यागी और विष्णुकुमार शुक्ला उपस्थित थे।

By-Kailash Singh

WhatsApp chat