जेल में ही रहेगा नीरव मोदी, लंदन की अदालत ने खारिज की जमानत याचिका

नीरव मोदी को पिछले महीने 29 मार्च को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया गया था. नीरव मोदी की ओर से वकील आनंद दूबे ने कोर्ट में पक्ष रखा लेकिन कोर्ट से कोई राहत नहीं मिली थी. तब मामले की सुनवाई करते हुए जज ने नीरव मोदी को सशर्त जमानत देने से इंकार करते हुए कहा कि बैंक को काफी नुकसान हुआ है.

भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी को लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट से कोई राहत नहीं मिली है. कोर्ट ने एक बार फिर उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी है. कोर्ट में नीरव के वकील पेश हुए जबकि वह खुद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश हुआ. इससे पहले कोर्ट ने पिछले महीने भी उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी और 26 अप्रैल तक जेल भेजते हुए अगली सुनवाई की तारीख इस दिन के लिए टाल दी थी. अब इस मामले की अगली सुनवाई 24 मई को होगी.

नीरव मोदी को पिछले महीने 29 मार्च को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया गया था. नीरव मोदी की ओर से वकील आनंद दूबे ने कोर्ट में पक्ष रखा लेकिन कोर्ट से कोई राहत नहीं मिली थी. तब मामले की सुनवाई करते हुए जज ने नीरव मोदी को सशर्त जमानत देने से इंकार करते हुए कहा कि बैंक को काफी नुकसान हुआ है. सबूतों को नष्ट किया गया है. यह धोखाधड़ी का बहुत ही असामान्य मामला है. नीरव मोदी जनवरी 2018 से ब्रिटेन में है. पासपोर्ट रद्द होने के बाद नीरव मोदी ने यात्रा नहीं की है.

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 13,500 करोड़ रुपये के कर्ज की धोखाधड़ी के मामले में आरोपी नीरव मोदी को 19 मार्च को लंदन में गिरफ्तार किया गया था. पीएनबी धोखाधड़ी के केस में ईडी ने 26 फरवरी को जायदाद जब्त की थी. आरोपी कारोबारी नीरव ने धोखाधड़ी से पीएनबी से लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) और फॉरेन लेटर्स ऑफ क्रेडिट (एफएलसी) के जरिए हजारों करोड़ रुपये हासिल किए थे. जमानत याचिका रद्द होने पर उसको 29 मार्च तक के लिए पुलिस की हिरासत में भेज दिया गया था.

मुंबई में 12 कारें नीलाम

इससे पहले शुक्रवार को मुंबई में नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी की 13 में से 12 लग्जरी कारों की ऑनलाइन नीलामी (करीब 3.29 करोड़ में) की गई. यह नीलामी मेटल ऐंड स्क्रैप ट्रेडिंग कॉर्पोरेशन (एमएसटीसी) द्वारा की गई. यह नीलामी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से की गई जिसने पिछले साल इन कारों को मोदी और चोकसी से जब्त किया था. इन नीलामी कारों में नीरव मोदी की 11 और मेहुल चोकसी की 2 कारें शामिल थीं. नीलामी में विजेता कौन रहा इसकी घोषणा अगले दो-तीन दिनों में की जाएगी.

नीलामी की गई वाहनों में एक सिल्वर रंग की रॉल्स रॉयस (रिजर्व कीमत 1.33 करोड़ रुपये), एक पोर्शे (रिजर्व कीमत 54.6 लाख रुपये), एक लाल रंग की मरसेडीज बेंज (रिजर्व कीमत 14 लाख रुपये), एक सफेद रंग की मरसेडीज बेंज (रिजर्व कीमत 37.8 लाख रुपये) और एक बीएमडब्ल्यू (रिजर्व कीमत 9.8 लाख रुपये) शामिल थीं. जिन लोगों ने नीलामी में हिस्सा लिया उन्हें एक प्री-बिड अमाउंट जमा करना था. जो बोलीदाता असफल रहेंगे उन्हें नीलामी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद बिड अमाउंट MTSC के जरिए वापस मिल जाएगा.

इससे पहले नीरव मोदी के पेंटिग्स की भी नीलामी की गई थी. ईडी 22 फरवरी को नीरव मोदी के 100 करोड़ रुपये से भी ज्यादा के शेयर, जमा और लग्जरी कारें फ्रीज कर कर चुका है. नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने पंजाब नेशनल बैंक में करीब 13,570 करोड़ रुपये का घपला किया है.

WhatsApp chat