तनुश्री-नाना कंट्रोवर्सी / महाराष्ट्र महिला आयोग ने नाना को नोटिस भेजा, तनुश्री को भी मौजूद रहने को कहा

बॉलीवुड डेस्क. तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर के विवाद पर मंगलवार को महाराष्ट्र महिला आयोग ने नाना पाटेकर, राकेश सारंग, गणेण आचार्य समेत अन्य को नोटिस भेजा है। आयोग ने नाना को नोटिस भेज 10 दिन में तनुश्री के आरोपों पर जवाब देने को कहा है। इसके साथ ही आयोग ने तनुश्री को भी पूछताछ के दौरान मौजूद रहने को कहा है।
#MeToo पर बोले महेश भट्ट : वहीं फिल्म डायरेक्टर और प्रोड्यूसर महेश भट्ट ने कहा कि ‘भारत में महिलाओं ने अब काफी जागरूक हो गई हैं। ये सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री तक ही सीमित नहीं रहा है। एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को महिलाओं को सपोर्ट करना चाहिए, लेकिन जब तक आरोपी पर लगे इल्जाम साबित नहीं हो जाते तब तक उसे दोषी नहीं ठहराया जा सकता।’
नाना ने मीडिया से नहीं की ज्यादा बात : इससे पहले सोमवार को नाना पाटेकर मीडिया के सामने तो आए लेकिन ज्यादा बात नहीं की। रिपोर्टरों ने नाना से सवाल किए तो नाना ने साफ कहा ‘मेरे वकील ने मुझे किसी भी चैनल से बात करने से मना किया है। इसलिए मुझे माफ कर दें। जो मैंने 10 साल पहले कहा था, वह आज भी वैसा ही है।’
क्या है मामला: तनुश्री ने सितंबर अंत में नाना के खिलाफ सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाया था और कहा था कि 2008 में हॉर्न ओके प्लीज के सेट पर नाना ने उन्हें गलत तरीके से छूने की कोशिश की थी। एक आइटम गाने में बोल्ड सीन देने के लिए जबरदस्ती की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat