Jobs Update: त्योहारी सीजन में फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन 1 लाख से अधिक अस्थायी नौकरियां देगा

नई दिल्ली। त्योहारी सीजन में आनलाइन शापिंग कंपनी फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन 1 लाख से अधिक अस्थायी नौकरियां देने की तैयारी कर रहा है। अगले महीने दिवाली से पहले ई-कॉमर्स के जरिए उत्पाद खरीदने से जुड़ी मांग पूरी करने के लिए करीब 1 लाख 20 हजार नई अस्थायी नौकरियां दे सकती हैं। रिक्रूटमेंट कंपनियों और एग्जिक्युटिव ने बताया कि यह पिछले साल के त्योहारी सीजन में हायर किए लोगों से दोगुना आंकड़ा है। वहीं कुछ ने कहा कि इस सीजन के दौरान 2 लाख अतिरिक्त अस्थायी कर्मचारियों की जरूरत हो सकती है। वॉलमार्ट के निवेश वाली फ्लिकार्ट ने फेस्टिव शॉपर्स को आकर्षित करने के लिए उत्पाद ऑफरिंग के साथ लॉजिस्टिक्स और डिलीवरी सर्विस के लिए डिलीवरी बॉय की एक फौज बनाने में भारी निवेश किया है।

सूत्रों ने बताया कि कंपनी चाहती है कि उसकी लास्ट-माइल डिलीवरी सहित सभी बैक-एड ऑपरेशन बिना किसी रुकावट के पूरे हों। कंपनियों को टेंपररी स्टाफिंग सॉल्यूशंस मुहैया कराने वाली रिक्रूटमेंट फर्म टीमलीज के एग्जिक्युटिव ने बताया कि फ्लिपकार्ट के निवेश के चलते ऐमजॉन को भी उसकी बराबरी करने को मजूबर होना पड़ा। टीमलीज सर्विसेज की को-फाउंडर ऋतुपर्णा चक्रबर्ती ने बताया, फ्लिपकार्ट पिछले दो सालों में कंजूसी बरतती रही है, लेकिन इस बार वॉलमार्ट के निवेश से आए पैसों के चलते वह काफी आक्रामक है। ऐमजॉन के लिए यह फ्लिपकार्ट से प्रभावी तरीके से मुकाबला करने का मामला है। रिसर्च फर्म रेडसीर कंसल्टिंग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल फेस्टिव सेल्स के पहले 5 दिनों में फ्लिपकार्ट ने एमेजॉन पर बढ़त हासिल की थी। रेडसीर के एंगेजमेंट मैनेजर उज्ज्वल चौधरी ने बताया, ‘फेस्टिव सीजन के दौरान टेंपररी स्टाफ को हायर करना ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए जरूरी हो जाता है। हालांकि मार्केट शेयर के लिए कॉम्पिटीशन बहुत कठिन हो जाने के कारण बड़ी कंपनियां थर्ड पार्टी सर्विस पर निर्भरता कम कर रही हैं।

ई-कॉमर्स सेक्टर की इन दो बड़ी कंपनियों ने पिछले साल के मुकाबले इस साल ज्यादा संख्या में डिलीवरी और लॉजिस्टिक्स एग्जिक्युटिव की हायरिंग की है। चौधरी ने बताया, इन दोनों कंपनियों के मार्केटिंग, प्रोडक्ट्स और ह्यूमन रिसोर्स में निवेश के लिए यह साल अभी तक काफी अच्छा रहा है। रैंडस्टैड इंडिया के सीईओ पॉल ड्यूपिस ने कहा कि फास्ट मूविंग कन्ज्यूमर गूड्स (एफएमसीजी), रिटेल, अपैरल और ई-कॉमर्स सेक्टर में बढ़ती मांग के चलते इस सीजन के दौरान करीब 2 लाख कर्मचारियों की जरूरत होगी। उन्होंने कहा, यह पिछले साल से 30 फीसदी ज्यादा है। फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन का इस बढ़ोतरी में अहम योगदान है। फ्लिपकार्ट वेयरहाउस के लिए बेंगलुरु के करीब देश का सबसे बड़ा लॉजिस्टिक्स पार्क बनाने के बारे में सोच रही है। इस फसिलिटी में 2020 तक 5 हजार लोगों को डायरेक्ट और 15 हजार लोगों को इनडायरेक्ट तरीके से हायर किया जाएगा। चक्रबर्ती ने बताया, इसके अलावा देशभर में कई और वेयरहाउस और सॉर्टिंग सेंटर को खोलने की बड़ी कंपनियां योजना बना रही हैं। देश के लॉजिस्टिक्स सेक्टर के लिए यह विकास का चरण है।

WhatsApp chat