शी जिनपिंग से मिलेंगे पीएम मोदी, ये है पूरा शेड्यूल

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के भारत दौरे का आज दूसरा दिन है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से एक बार फिर शी जिनपिंग मुलाकात करेंगे.  दोनों शीर्ष नेताओं के बीच सुबह करीब 10 बजे कोव रिसॉर्ट में बैठक होगी. मिली जानकारी के मुताबिक दोनों नेताओं के बीच यह अनौपचारिक मुलाकात है.

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के भारत दौरे का आज दूसरा दिन है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से एक बार फिर शी जिनपिंग मुलाकात करेंगे.  दोनों शीर्ष नेताओं के बीच सुबह करीब 10 बजे कोव रिसॉर्ट में बैठक होगी.

मिली जानकारी के मुताबिक दोनों नेताओं के बीच यह अनौपचारिक मुलाकात है. सूत्रों के  मुताबिक दोनों देश अलग-अलग बयान जारी करेंगे. हालांकि दोनों नेताओं के बीच मुलाकात की वजह स्पष्ट नहीं है. कहा जा रहा है कि दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात साल 2018 में चीन के वुहान शहर में हुई वार्ता की तरह अनौपचारिक ही रहेगी.

क्या है आज का शेड्यूल?

1. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग चेन्नई के आईटीसी ग्रैंड चोला होटल में ठहरे हुए हैं. होटल से महाबलीपुरम के लिए शी जिनपिंग एक बार फिर रवाना होंगे. मिली जानकारी के मुताबिक 9 बजकर 50 मिनट पर वे महाबलीपुरम पहुंचेंगे.

2. फिरशरमैंस होटल में दोनों नेताओं के बीच सुबह 10 बजे मुलाकात होगी. इस मुलाकात में क्षेत्रीय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर बातचीत हो सकती है.

3. सुबह 10 बजकर 45 मिनट से दोनों नेताओं के बीच प्रतिनिधि स्तर पर बातचीत भी होगी. इस संयुक्त वार्ता के दौरान विदेश मंत्री एस जयशंकर भी मौजूद रहेंगे.

4. सुबह करीब 11 बजकर 45 मिनट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोपहर भोज  की मेजबानी करेंगे.

5. भोज के बाद शी जिनपिंग 12 बजकर 45 मिनट पर चेन्नई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए रवाना होंगे.

6. दोपहर करीब डेढ़ बजे शी जिनपिंग नेपाल के लिए रवाना हो जाएंगे.

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच शुक्रवार को करीब 5 घंटे तक आपसी बातचीत हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाबलीपुरम में शानदार इंतजाम के लिए तमिलनाडु सरकार का धन्यवाद किया.

विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पीएम मोदी के अलावा शी जिनपिंग ने भी शानदार स्वागत और इंतजाम की तारीफ की. राष्ट्रपति शी जिनपिंग स्वागत से अभिभूत हो गए. विदेश सचिव ने  बताया कि दोनों देशों के बीच आपसी संबंध, आतंकवाद और व्यापार जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई.

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat