भाजपा का घोषणापत्र जारी, राजनाथ बोले, राम मंदिर पर संकल्प दोहराते हैं

खास बातें

  • भाजपा का घोषणापत्र जारी
  • 12 कमेटियों ने संकल्प पत्र पूरा करने में अहम भूमिका निभाई
  • 300 रथ, 7700 सुझाव पेटियां, 110 संवाद कार्यक्रम
  • महिलाओं को मंत्रिपरिषद में 15 फीसदी आरक्षण का वादा संभव
  • अमित शाह ने 2014-19 को स्वर्ण काल बताया

भाजपा ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इसे संकल्प पत्र का नाम दिया गया है। भाजपा का ये संकल्प पत्र 48 पन्नों का है।

घोषणापत्र पर बोले राजनाथ:

  • भाजपा के संकल्प पत्र में 75 वादे
  • 2022 तक सभी वादे पूरा करने का एलान
  • 12 कमेटियों ने संकल्प पत्र पूरा करने में अहम भूमिका निभाई
  • देश के सभी क्षेत्रों और समुदायों से चर्चा करने के बाद बनाया संकल्प पत्र
  • 300 रथ, 7700 सुझाव पेटियां, 110 संवाद कार्यक्रम का योगदान
  • आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस की नीति
  • राष्ट्रवाद के प्रति हमारी प्रतिबद्धता
  • नागरिक संशोधन विधेयक पास कराएंगे
  • राम मंदिर पर सभी विकल्प तलाशेंगे
  • क्रेडिट कार्ड पर एक लाख रुपये तके के लोन पर शून्य फीसदी ब्याज दर

घोषणापत्र जारी करने से पहले बोले अमित शाह:
2014 में भाजपा ने गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को पीएम पद का उम्मीदवार बनाया था। हम उस समय भविष्य का विजन लेकर आए थे। 30 साल बाद देश में पहली बार अस्थिरता का दौर खत्म करके भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। पूर्ण बहुमत के बावजूद एनडीए की सरकार बनाई। 2014 से 2019 की यात्रा जब भी भारत के विकास और दुनिया में साख बढ़ने की बात होगी, ये समय स्वर्णकाल के तौर पर अंकित होगा।
इन पांच सालों में 50 करोड़ गरीबों का जीवन स्तर ऊपर उठाने का भगीरथ प्रयास पीएम मोदी ने किया है। जमीनी स्तर पर मोदी सरकार को सफलता मिली है। आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब देने की नीति अपनाई। देश की सीमाओं के साथ कोई छेड़खानी नहीं कर सकता। आज हमलोग 75 संकल्प लेकर देश के सामने जा रहे हैं, जब देश अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाएगा, 2022 तक हम हर संकल्प पूरा कर लेंगे।

राष्ट्रवाद से जुड़े मुद्दे पर पुराना और कठोर रुख अपनाने की तैयारी है। इसके अलावा इसमें शहीदों के परिजनों को सरकारी नौकरी देने का वादा किया जा सकता है। संकल्प पत्र कमेटी के एक सदस्य के मुताबिक घोषणा पत्र का मसौदा तैयार कर पीएम और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को सौंप दिया गया है। बीते शुक्रवार और शनिवार को इस पर जम कर माथापच्ची हुई। पीएम ने इसमें अपने स्तर पर कुछ बदलाव और सुझाव दिए हैं।

क्या खास हो सकता है भाजपा के घोषणापत्र में-

  • राष्ट्रीय सुरक्षा के विषय का प्रमुखता से उल्लेख।
  • किसानों के लिए मासिक पेंशन योजना और कृषक भविष्य निधि।
  • रोजगार एवं स्वरोजगार के व्यापक अवसर का खाका।
  • सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने की पहल पर विस्तार से चर्चा।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना को व्यापक बनाने के संबंध में चर्चा।
  • मंत्रिपरिषद् में महिलाओं के लिए 15 फीसदी आरक्षण।

WhatsApp chat