फिर एक बार LoC के पार, भारत ने की सर्जिकल स्ट्राइक पार्ट- 2

बीते 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकी हमले के बाद देशभर में गुस्से का माहौल था. देश में हर तरफ पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग की जा रही थी. इस बीच भारत ने पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है. दरअसल, पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में भारतीय वायुसेना ने जमकर बमबारी की है.  जानकारी के मुताबिक वायुसेना का मिराज विमानों ने मंगलवार सुबह 3.30 बजे बालाकोट और मुजफ्फराबाद के आस-पास आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया है. इस हमले में 300 से ज्यादा आतंकियों के मारे जाने की खबर है. इस बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार (NSA) अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस कार्रवाई के बारे में जानकारी दी है.

पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई की खबरें आ रही हैं. भारत के 12 मिराज 2000 जेट ने पाकिस्तान में 1000 किलो के बम गिराए हैं. हालांकि, अब तक भारतीय वायुसेना की ओर से पुष्टि नहीं की गई है.

सूत्रों के आधार पर कहा जा रहा है कि मिराज फाइटर जेट ने पाकिस्तान के आतंकी कैंपों को तबाह कर दिया. पाकिस्तान की सेना ने खुद इस बात को स्वीकारा है कि भारत के विमान सीमापार कर पाकिस्तानी क्षेत्र में घुसे.

पाकिस्तान ने खुद दी जानकारी

दिलचस्प यह है कि पाकिस्तान की ओर से खुद इसकी जानकारी दी गई. पाकिस्तान इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक आसिफ गफूर ने सुबह ट्वीट किया.  गफूर ने लिखा कि ‘भारतीय वायु सेना ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया. पाकिस्तान वायु सेना ने तुरंत कार्रवाई की. भारतीय विमान वापस चले गए.’  वहीं रेडियो पाकिस्तान ने  दावा किया कि वायुसेना के विमानों ने लौटने से पहले जल्दबाजी में विमान में रखे बम गिरा दिए जो खैबर पख्तूनख्वा में बालाकोट के पास गिरे हैं. बता दें कि पाकिस्तान की ओर से बीते कुछ दिनों से लगातार राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया जा रहा था. वहीं भारतीय सेना की ओर से पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है.

पीएम मोदी ने दिए थे कार्रवाई के संकेत

बीते 14 फरवरी को पाकिस्तानी आतंकियों द्वारा भारतीय जवानों पर हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ी कार्रवाई के संकेत दिए थे. पीएम मोदी ने साफ कर दिया था कि पाकिस्तान में बैठे आतंकियों खिलाफ सेना ने अपने तय वक्त और जगह पर जवाब देंगी. यही नहीं, तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण के साथ एक बैठक भी की थी.

WhatsApp chat