‘किले’ में बदली अयोध्या, ट्रेन-बस से पहुंचे हजारों शिवसैनिक

अयोध्या में 25 मार्च को विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी) के धर्म संसद कार्यक्रम लिए राज्य पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं. अब तक वीएचपी, शिव सेना सहित अन्य संगठनों से जुड़े हजारों लोग यहां पहुंच चुके हैं.

लखनऊ में पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि अयोध्या में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए एक अपर पुलिस महानिदेशक स्तर के अधिकारी, एक उप पुलिस महानिरीक्षक, तीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की तैनाती की गई है.

पुलिस ने कहा है कि 10 अपर पुलिस अधीक्षक, 21 क्षेत्राधिकारी, 160 इंस्पेक्टर, 700 कांस्टेबिल, पीएसी की 42 कंपनी, आरएएफ की पांच कंपनियां तैनात की गई हैं. इसके अलावा, पुलिस ने एटीएस के कमांडो और ड्रोन कैमरे भी निगरानी के लिए तैनात किए हैं.

राम की नगरी अयोध्या में जय श्री राम के नारों की गूंज लगातार तेज होती जा रही है. दो दिन पहले महाराष्ट्र के ठाणे से रवाना हुआ शिवसैनिकों का पहला जत्था देर रात अयोध्या पहुंचा. शिवसैनिक ट्रेन-बस से अयोध्या पहुंच रहे हैं.

महाराष्ट्र से हजारों शिवसैनिकों का जत्था रेल और हवाई मार्ग से अयोध्या पहुंचा. कार्यकर्ताओं ने ‘अबकी बार राम मंदिर का निर्माण होकर रहेगा’ का नारा तेज कर दिया है.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने अयोध्या दौरे के लिए बृहस्पतिवार को पुणे के शिवनेरा किले से मिट्टी ली. ठाकरे ने मुंबई में शिवसेना की विजयादशमी रैली के दौरान ऐलान किया था कि वह मिट्टी लेकर 25 नवंबर को अयोध्या जाएंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राम मंदिर के निर्माण को लेकर सवाल करेंगे.

वहीं, वीएचपी के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय और राम विलास वेदांती ने शुक्रवार को अयोध्या में धर्म संसद की तैयारियों का निरीक्षण किया.

 

WhatsApp chat