डॉक्टरों ने युवक के पेट से निकालीं धातु की 38 वस्तुएं; चाभी, सिक्कों के साथ सिम कार्ड भी मिला

 

  • कई साल से धातु की वस्तुएं निगल रहा था, डॉक्टरों ने बताया मानसिक रोगी
  • दिमाग की एमआरआई के वक्त पेट में धातुएं होने का पता चला

चेन्नई. तमिलनाडु के चेन्नई में डॉक्टरों ने एक आदमी के पेट से चाभियां, सिक्के, सिम कार्ड, ब्लेड, पेंसिल, शार्पनर और चुंबक समेत 38 चीजें निकालीं। सर्जरी में करीब 45 मिनट लगे। डॉक्टरों को हैरानी हुई कि पेट में इतनी खतरनाक चीजें होने के बावजूद 52 साल के जयकुमार को कोई परेशानी क्यों नहीं हुई।

चेन्नई स्थित डॉक्टरों के मुताबिक, जयकुमार मानसिक रूप से बीमार हैं। सर्जरी न होती तो उनकी मौत भी हो सकती थी। जयकुमार की उम्र को देखते हुए डॉक्टरों ने उनकी दो दिन दो बार गैस्ट्रोस्कोपी की। पहले दिन पेट से 22 और अगले दिन 18 चीजें निकालीं। डॉक्टरों ने बताया कि पेट से जो सबसे छोटी चीज निकलीं वे लगभग दो सेमी की थीं। एक चुंबक के साथ कई अन्य धातुएं भी चिपकी मिलीं।

दिमाग की एमआरआई में सामने आई पेट में धातु होने की बात
इलाज करने वाली डॉक्टर जयंती रंगराजन के मुताबिक, जयकुमार के पेट में धातु छिपे होने की बात उसके एमआरआई से सामने आईं, जो कि उसकी दिमागी बीमारी स्कैन करने के लिए किया जाना था। एमआरआई के दौरान मशीन के आसपास मैग्नेटिक फील्ड एक्टिव होती है, जिसमें गड़बड़ पैदा होने लगी। इसके बाद कुमार के पेट में दर्द हुआ। सीटी स्कैन में सामने आया कि उनके पेट में काफी धातुएं थीं।

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat