7वें चरण में 64% मतदान; भाजपा की मांग- बंगाल में आचार संहिता लागू रहने तक केंद्रीय बल तैनात रहें

लोकसभा चुनाव में सातवें चरण के लिए रविवार को 8 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान हुआ। इस चरण में 64.18% वोट डाले गए। 2014 लोकसभा चुनाव में इन सीटों पर 64.53% मतदान हुआ था। पश्चिम बंगाल में आखिरी चरण में भी हिंसा हुई। इसके बावजूद यहां सबसे ज्यादा 73% वोटिंग हुई। झारखंड में 71% मतदान हुआ। मध्यप्रदेश में 75% वोटिंग हुई। लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ”बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शुरू से धमकी देती रहीं हैं, इसलिए हमें डर है कि मतदान खत्म होने के बाद टीएमसी वहां नरसंहार शुरू न कर दे। इसलिए चुनाव आयोग से हमारी मांग है कि आचार संहिता खत्म होने तक वहां केंद्रीय बल तैनात रहें।”

7वें चरण में इन राज्यों में वोटिंग
आखिरी चरण में बिहार की 8, झारखंड की 3, मध्यप्रदेश की 8, उत्तरप्रदेश की 13, प. बंगाल की 9, हिमाचल प्रदेश की 4, पंजाब की 13 और चंडीगढ़ की 1 सीट पर मतदान है। मप्र की देवास, उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, इंदौर, खरगोन, खंडवा सीट पर वोटिंग हुई। इस चरण में मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद खाली हुई गोेवा की पणजी विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए मतदान हुआ। इसके अलावा तमिलनाडु की चार विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव के लिए वोटिंग हुई। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, शत्रुघ्न सिन्हा, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, अनुराग ठाकुर, भोजपुरी अभिनेता रविकिशन, सनी देओल, सुखबीर बादल, हरसिमरत कौर, शिबू सोरेन और पवन कुमार बंसल जैसे उम्मीदवार मैदान में थे।

बंगाल में भाजपा प्रत्याशी के काफिले पर हमला
बंगाल में डायमंड हार्बर से भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय की कार में डोंगरिया क्षेत्र में तोड़फोड़ की गई। बंगाल के जाधवपुर में भाजपा सांसद अनुपम हाजरा ने तृणमूल कार्यकर्ताओं पर हिंसा का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- तृणमूल के गुंडों ने भाजपा के मंडल अध्यक्ष और एक ड्राइवर को पीटा। एक कार पर हमला किया। उन्होंने लोगों को वोट डालने से रोका।

कांग्रेस पंजाब में बाहर से गुंडे लाई- हरसिमरत कौर
पंजाब के बादल गांव में केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने आरोप लगाया- कांग्रेस बाहर से गुंडे लाई है। उसके गुंडों ने कल (शनिवार को) यहां कारों की चेकिंग की थी। हमनें निर्वाचन अधिकारी से इसकी शिकायत की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। बठिंडा में हमारे कार्यकर्ता टीटू रंधावा पर भी हमला किया गया।

दुनिया में सबसे ऊपर स्थित केंद्र पर मतदान
दुनिया में सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित लाहौल-स्पीति के ताशिगांग मतदान केंद्र पर लोगों ने वोट डाला। यह समुद्र तल से 15,256 फीट ऊपर स्थित है।

2014 में एनडीए ने 40 सीटों पर जीत हासिल की थी

इस चरण में जिन 59 सीटों पर मतदान है, 2014 में एनडीए ने इनमें से 40 (भाजपा- 33, अकाली दल- 4, रालोसपा-2, अपना दल-1) पर जीत हासिल की थी। पिछले लोकसभा चुनाव में बिहार में उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा भाजपा के साथ लड़ी थी, जबकि नीतीश कुमार की जनता दल अलग चुनाव लड़ी थी। बंगाल की जिन 9 सीटों पर मतदान है, उनमें से सभी पर तृणमूल ने जीत हासिल की थी। इन 59 सीटों में आप ने 4, कांग्रेस ने 3, झामुमो ने 2 और जदयू ने 1 सीट हासिल की थी।

7वां चरण: ये बड़े चेहरे मैदान में 

नरेंद्र मोदी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2014 की तरह इस बार भी उत्तरप्रदेश की वाराणसी लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में हैं। सपा-बसपा ने गठबंधन उम्मीदवार के तौर पर शालिनी यादव को उम्मीदवार बनाया। वहीं, कांग्रेस ने पिछली बार मोदी के खिलाफ चुनाव लड़े अजय राय को ही टिकट दिया है।

शत्रुघ्न सिन्हा: अभिनेता और बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर पटना साहिब सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। इससे पहले वे 2 बार इस सीट से भाजपा के टिकट पर सांसद रह चुके हैं। भाजपा ने सिन्हा के खिलाफ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया है।

अनुराग ठाकुर: भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर हिमाचल की हमीरपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। वे 2008 से यहां से लगातार सांसद हैं। इस सीट से उनके पिता और पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी तीन बार सांसद रह चुके हैं। हमीरपुर सीट भाजपा का गढ़ रही है। 1998 से लगातार यहां भाजपा का सांसद है।

सनी देओल: अभिनेता सनी देओल को भाजपा ने गुरदासपुर से टिकट दिया है। ये उनका पहला चुनाव है। कांग्रेस ने यहां से मौजूदा सांसद सुनील जाखड़ को टिकट दिया है। गुरदासपुर से अभिनेता विनोद खन्ना 4 बार सांसद रहे हैं। हालांकि, उनके निधन के बाद जाखड़ इस सीट से उपचुनाव जीत गए थे।

सुखबीर बादल: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के बेटे सुखबीर बादल फिरोजपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। बादल तीन बार फरीदकोट से भी सांसद रह चुके हैं। कांग्रेस ने इस बार फिरोजपुर से मौजूदा सांसद शेर सिंह घुबाया को टिकट दिया है। घुबाया यहां से अकाली दल के टिकट पर दो बार सांसद चुने जा चुके हैं। मार्च 2019 में घुबाया अकाली दल छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं।

हरसिमरत कौर बादल: सुखबीर सिंह बादल की पत्नी और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल बठिंडा से मैदान में हैं। वे यहां से लगातार दो बार से सांसद हैं। कांग्रेस ने इस सीट से विधायक अमरिंदर सिंह राजा वडिंग को टिकट दिया है। वडिंग गिद्दड़बाहा से लगातार दूसरी बार विधायक चुने गए।

शिबू सोरेन: शिबू सोरेन अपनी सीट दुमका से चुनाव मैदान लड़ रहे हैं। 1980 से 2014 तक वे इस सीट से 8 बार सांसद रहे हैं। इस दौरान वे 2 बार चुनाव भी हारे। भाजपा ने शिबू के खिलाफ सुनील सोरेन को तीसरी बार टिकट दिया है। सुनील इससे पहले 2009 और 2014 में भी चुनाव हार चुके हैं।

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat