5 फरवरी, 2019 से शुरू हो रहे हैं गुप्त नवरात्र

 

Gupt Navratri 2019 Date, Tantra Sadhna, Puja Vidhi / नवरात्र (Navratri) यानि मां भगवती के नौ रूपों, नौ शक्तियों की पूजा के वो दिन जब मां हर मनोकामना पूरी करती है। यूं तो हर साल चैत्र और शारदीय नवरात्र होते हैं जिनमें लोग पूरी श्रद्धा के साथ घट स्थापना करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि साल में इन दो नवरात्रों से अलग क्या 2 और नवरात्र भी होते हैं..? शायद नहीं…ये गुप्त नवरात्र (Gupt Navratri) हैं जिनके बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं। हिंदू कैलेंडर के मुताबिक गुप्त नवरात्र साल में 2 बार आते हैं एक माघ महीने में और दूसरा आषाढ़ महीने में। वही अब माघ महीना चल रहा है लिहाज़ा गुप्त नवरात्र 2019 का आगाज़ 5 जनवरी से होने जा रहा है। आइए आपको इन गुप्त नवरात्र से जुड़ी कुछ खास बाते बताते है।

कब से कब तक हैं गुप्त नवरात्र 2019
गुप्त नवरात्र 2019 मंगलवार यानि 5 फरवरी से शुरू होंगे इस दिन घट स्थापना की जाएगी और इसके बाद ये गुप्त नवरात्र 14 फरवरी, 2019 को संपन्न होंगे।

इन दिनों में 10 महाविद्याओं की होती है पूजा
गुप्त नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की बजाय दस महाविद्याओं की पूजा की जाती है। ये दस महाविद्याएं हैं – काली, तारा देवी, त्रिपुर सुंदरी, भुवनेश्वरी, छिन्नमस्ता, त्रिपुर भैरवी, मां धूमावती, बगलामुखी, मातंगी और कमला देवी।

क्यों खास होते हैं गुप्त नवरात्रि
साल में 2 बार आने वाले गुप्त नवरात्रि बेहद ही खास होते हैं। इस नवरात्र की पूजा विधि चैत्र और शारदीय नवरात्रि से बिल्कुल अलग होती है और यही कारण है कि गुप्त नवरात्रि अन्य नवरात्र से बिल्कुल अलग और खास होते हैं।कहते हैं इन नवरात्रों में मां भगवती की देर रात गुप्त रूप से पूजा की जाती है और इसलिए इन्हे गुप्त नवरात्र कहा जाता है।

गुप्त नवरात्र पूजा विधि
-इस व्रत में मां दुर्गा की पूजा देर रात ही की जाती है।
-मूर्ति स्थापना के बाद मां दुर्गा को लाल सिंदूर, लाल चुन्नी चढ़ाई जाती है
– नारियल, केले, सेब, तिल के लडडू, बताशे चढ़ाएं और लाल गुलाब के फूल भी अर्पित करें
– गुप्त नवरात्रि में सरसों के तेल के ही दीपक जलाएं
-ॐ दुं दुर्गायै नमः का जाप करना चाहिए

 

 

WhatsApp chat