जींद और रामगढ़ विधानसभा सीट पर उपचुनाव के नतीजे आज, दोनों सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला

                       

  • जींद में 75.72% और रामगढ़ में 79.14% मतदान हुआ
  • रामगढ़ में 20 उम्मीदवार मैदान में; मुख्य मुकाबला कांग्रेस, भाजपा और बसपा के बीच
  • जींद में 21 प्रत्याशी; मुख्य मुकाबला भाजपा, जजपा और कांग्रेस के बीच

जींद/अलवर. हरियाणा के जींद और राजस्थान की रामगढ़ विधानसभा सीट पर 28 जनवरी को हुए उपचुनाव के नतीजे गुरुवार को आ रहे हैं। इसके लिए वोटों की गिनती जारी है। जींद में 75.72% और रामगढ़ में 79.14% वोट पड़े थे। जींद में भाजपा उम्मीदवार कृष्ण मिड्ढा, जननायक जनता पार्टी के दिग्विजय चौटाला और कैथल से कांग्रेस विधायक रणदीप सुरजेवाला के बीच मुकाबला है। वहीं, रामगढ़ में कांग्रेस की सफिया जुबेर खां, भाजपा के सुखवंत सिंह और बसपा के जगत सिंह के बीच टक्कर है। यहां सातवें राउंड तक कांग्रेस 12601 वोटों से आगे चल रही है। जींद में पहले राउंड की मतगणना के बाद दिग्विजय चौटाला आगे चल रहे हैं।

जींद: पहले राउंड की गिनती

पहले राउंड की गिनती में जजपा प्रत्याशी दिग्विजय चौटाला 834 वोट से आगे हैं। जजपा के दिग्विजय को 3639, भाजपा के कृष्ण मिड्‌ढा को 2835, कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला को 2169 और विनोद आश्री को 705 वोट मिले।

रामगढ़: किस राउंड में किसे कितने वोट मिले

राउंड सफिया जुबेर खां (कांग्रेस)  सुखवंत सिंह (भाजपा) जगत सिंह (बसपा)
1 7020 2659 463
2 10245 7114 1031
3 13152 12201 1688
4 17667 16098 2819

सातवें राउंड की मतगणना के बाद कांग्रेस की सफिया जुबेर खां को 37500 वोट मिले। भाजपा के सुखवंत सिंह 24899 वोट पाकर दूसरे नंबर पर हैं। बसपा के जगत सिंह को 5530 वोट मिले।

जींद में इनेलो विधायक के बेटे को भाजपा से टिकट
2014 में हुए विधानसभा चुनाव में जींद से हरिचंद मिड्‌ढा इंडियन नेशनल लोकदल के टिकट पर जीते थे। उनके निधन के कारण यह सीट खाली हुई। उनके बेटे कृष्ण मिड्‌ढा यहां से भाजपा प्रत्याशी हैं। नवगठित जननायक जनता पार्टी (जजपा) से दिग्विजय चौटाला को उतारा गया है। दिग्विजय पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस ने कैथल से विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला को जींद में प्रत्याशी बनाकर मुकाबला त्रिकोणीय कर दिया है। वहीं, इनेलो ने उमेद रेडू को समर्थन दिया है।

भाजपा जींद में 1.86% वोट के अंतर से हारी थी
जींद विधानसभा में 12 बार हुए चुनाव में 5 बार कांग्रेस, 4 बार लोकदल-इनेलो ने जीत दर्ज की। एक-एक बार हरियाणा विकास पार्टी, एनसीओ और निर्दलीय विधायक ने जीत हासिल की। कांग्रेस नेता मांगेराम गुप्ता यहां से 4 बार जीते। 2009 में इनेलो नेता हरिचंद मिड्‌ढा ने गुप्ता को हराया। 2014 में मिड्‌ढा ने इनेलो से भाजपा में आए सुरेंद्र बरवाला को 1.86% यानी 2257 वोट से हराया था।

जींद में शहरी से ज्यादा ग्रामीण क्षेत्र में वोट पड़े थे
जींद में 28 जनवरी को 75.72 प्रतिशत वोट पड़े थे। 1,72,774 मतदाताओं में से 1,30,824 ने मताधिकार का प्रयोग किया था। शहरी क्षेत्र में 72 प्रतिशत और ग्रामीण क्षेत्र में 87 प्रतिशत मतदान हुआ था। जींद के इतिहास में चौथी बार 75 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ है। यहां 1987 में 76.28 प्रतिशत मतदान हुआ था।

जींद में 1972 में जीता था जाट उम्मीदवार
जींद में करीब 48 हजार जाट वोटर हैं। ब्राह्मण, पंजाबी और वैश्य वर्ग की बात करें तो हर समुदाय के लोगों की संख्‍या 14 से 15 हजार के बीच है। पिछली बार 1972 में कोई जाट उम्‍मीदवार विजयी हुआ था। उस समय कांग्रेस के चौधरी दल सिंह विधायक बने थे। इसके बाद जितने भी विधायक बने, उनमें से अधिकतर वैश्य और पंजाबी समुदाय के हैं। इस बार तीन बड़े चेहरे जाट समुदाय से मैदान में हैं।

राजस्थान: 200 में से 199 सीटों पर हुआ था चुनाव
रामगढ़ में विधानसभा चुनाव से पहले बसपा प्रत्याशी लक्ष्मण चौधरी का निधन हो गया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने यहां चुनाव स्थगित कर दिया था। तब प्रदेश की 200 में से 199 विधानसभा सीटों पर ही मतदान हुआ था।

रामगढ़ में 20 प्रत्याशी मैदान में
राजस्थान में अलवर के रामगढ़ में 20 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। इनमें मुख्य मुकाबला कांग्रेस की सफिया जुबेर खां, भाजपा के सुखवंत सिंह और बसपा के जगत सिंह के बीच है। प्रचार के अंतिम दिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने सभा की थी।

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat