रिलायंस इंडस्ट्रीज 9 लाख करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बनी

रिलायंस इंडस्ट्रीज 9 लाख करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बन गई। कंपनी के शेयर में शुक्रवार को 2% बढ़त आने से वैल्यूएशन बढ़कर 9.01 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया। रिलायंस पिछले साल अगस्त में 8 लाख करोड़ रुपए के आंकड़े पर पहुंची थी। इस मामले में भी वो देश की सबसे पहली कंपनी बनी थी। मार्केट कैप में आईटी कंपनी टीसीएस का दूसरा नंबर है। उसका वैल्यूएशन 7.70 लाख करोड़ रुपए है।

वैल्यूएशन में टॉप-5 कंपनियां

कंपनी मार्केट कैप (रुपए)
रिलायंस इंडस्ट्रीज 9 लाख करोड़
टीसीएस 7.70 लाख करोड़
एचडीएफसी बैंक 6.71 लाख करोड़
हिंदुस्तान यूनीलीवर 4.58 लाख करोड़
एचडीएफसी 3.59 लाख करोड़

रिलायंस के शेयर ने इस साल 27% रिटर्न दिया

रिलायंस 10 हजार करोड़ रुपए का तिमाही मुनाफा कमाने वाली देश की पहली निजी कंपनी भी है। उसे 2018 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में पहली बार इतना प्रॉफिट हुआ था। जनवरी में तिमाही नतीजे घोषित करने के बाद से रिलायंस के शेयर का अच्छा प्रदर्शन जारी है। शुक्रवार को तेजी का लगातार 5वां दिन है। इस साल शेयर 27% रिटर्न दे चुका। 31 दिसंबर 2018 को रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर की कीमत बीएसई पर 1121 रुपए थी। शेयर अब 1428 रुपए पर आ गया। यह 52 हफ्ते का उच्च स्तर भी है।

रिलायंस के 5 रिकॉर्ड

अक्टूबर 2007 100 अरब डॉलर के मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बनी
जुलाई 2018 11 साल बाद फिर से 100 अरब डॉलर का वैल्यूएशन हासिल किया
अगस्त 2018 8 लाख करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बनी
जनवरी 2019 10,000 करोड़ रुपए के तिमाही मुनाफे वाली देश की पहली निजी कंपनी
अक्टूबर 2019 9 लाख करोड़ रुपए के वैल्यूएशन वाली देश की पहली कंपनी

रिलायंस अगले 2 साल में 200 अरब डॉलर तक पहुंच सकती है: रिपोर्ट
ब्रोकरेज फर्म बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने बुधवार को यह रिपोर्ट जारी की। इसके मुताबिक रिलायंस के न्यू कॉमर्स और ब्रॉडबैंड बिजनेस की मदद से अगले 24 महीने में कंपनी का मार्केट कैप 200 अरब डॉलर तक पहुंच सकता है।

मुकेश अंबानी एशिया में सबसे अमीर
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की नेटवर्थ 55.3 अरब डॉलर (3.86 लाख करोड़ रुपए) है। अंबानी पिछले साल चीन की अलीबाबा के फाउंडर जैक मा को पीछे छोड़ एशिया के सबसे अमीर बने थे। जैक मा की नेटवर्थ अभी 41.7 अरब डॉलर (2.96 लाख करोड़ रुपए) है।

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat