सेंसेक्स 300 अंक गिरकर 39000 के नीचे आया, जेट एयरवेज का शेयर 23% लुढ़का

 

  • रिलायंस के शेयर में 2%, एसबीआई में 1% नुकसान
  • एचपीसीएल के शेयर में 6%, बीपीसीएल में 4.5% गिरावट
  • आईटी कंपनियों के शेयरों में खरीदारी, टीसीएस में 1.26% तेजी

मुंबई. शेयर बाजार में कारोबारी हफ्ते की शुरुआत गिरावट के साथ हुई है। शुरुआती कारोबार में ही सेंसेक्स 300 अंक लुढ़क गया। इसने 38,828.77 का निचला स्तर छुआ। निफ्टी 107 प्वाइंट गिरकर 11,646.15 तक पहुंच गया।

रिलायंस के शेयर में 2% गिरावट

सेंसेक्स के 30 में से 24 और निफ्टी के 50 में से 41 शेयरों में नुकसान दर्ज किया गया। बीएसई पर रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2% से ज्यादा लुढ़क कर 1345.30 रुपए पर पहुंच गया।

जेट का शेयर 10 साल के निचले स्तर पर पहुंचा
जेट एयरवेज के शेयर में 19% गिरावट दर्ज की गई। बीएसई पर शेयर 132.20 रुपए पर पहुंच गया। एनएसई पर शेयर 23% गिरकर 126.65 रुपए पर पहुंच गया। यह 10 साल का सबसे निचला स्तर है। एयरलाइन अस्थाई रूप से बंद होने की वजह से जेट के शेयर में बिकवाली हो रही है। 17 अप्रैल को एयरलाइन ने संचालन बंद किया। अगले दिन शेयर इंट्रा-डे में 34% तक लुढ़क गया था।

तेल कंपनियों के शेयरों में 6% तक गिरावट
इंडियन ऑयल के शेयर में 4% गिरावट आई। बीएसई पर शेयर 149.55 रुपए के निचले स्तर पर आ गया। बीपीसीएल का शेयर 4.5% लुढ़क कर 346 रुपए पर पहुंच गया। एचपीसीएल में 5.7% नुकसान दर्ज किया गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ने की वजह से तेल कंपनियों के शेयर गिरे। ब्रेंट क्रूड का रेट 3.25% बढ़कर 74.31 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया।

आईटी कंपनियों के शेयरों में 1% से ज्यादा बढ़त
आईटी और पावर सेक्टर की कंपनियों के शेयरों में खरीदारी देखी जा रही है। बीएसई पर टीसीएस के शेयर में 1.26% और एचसीएल टेक में करीब 1% का उछाल आया।

रुपए में 47 पैसे की गिरावट
डॉलर के मुकाबले रुपया 47 पैसे टूटकर 69.82 रुपए पर पहुंच गया। इंपोर्टर्स और बैंकों की ओर से डॉलर की मांग बढ़ने से रुपए को नुकसान हुआ। ब्रेंट क्रूड में तेजी की वजह से भी दबाव बढ़ा।

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat