शिक्षा विभाग की कार्यशैली से प्रताड़ित हैं अध्यापक कलेक्टर से कार्यवाही की मांग

नरसिंहपुर। विगत वर्षों से शिक्षा विभाग  की कार्यशैली से अध्यापक संवर्ग की अनेकानेक समस्याएं अनसुलझे तरीके से व्याप्त होकर शालाओं में कार्यरत आम अध्यापकों को मानसिक रूप से संत्रास दे रही हैं। जिला शिक्षा  कार्यालय की लापरवाही और गफलतपूर्ण कार्यशैली एवं कार्यवाही से सप्ताह भर में होने वाली कार्यवाही महीनों तक नहीं हो पाती है और शिक्षा जगत में व्याप्त भर्राशाही का फायदा अधिकारी और संकुल प्राचार्य उठा रहे हैं जिससे संकुल अंतर्गत अध्यापकों को आर्थिक शोषण का शिकार होना पड़ रहा है।
सपाक्स संघ के जिलाध्यक्ष सत्य प्रकाश त्यागी सहित शासकीय अध्यापक शिक्षक संगठन के अध्यापको  ने दीपक सक्सेना जिलाधीश नरसिंहपुर से उनके कार्यालय में जाकर सौजन्य भेंट कर जिला अंतर्गत व्याप्त स्थानीय समस्याओं जैसे 12 वर्ष की सेवावधि पूर्ण कर चुके अध्यापकों को क्रमोन्नत वेतनमान देना, छठवें वेतनमान का संपूर्ण अध्यापकों को लाभ दिलाने उनकी सेवा पुस्तिकाओं का जिला पंचायत कार्यालय से लेखा परीक्षण की कार्यवाही शत-प्रतिशत करवाने ,वरिष्ठता सूचियो को अद्यतन कर जारी करवाना, अंशदाई पेंशन की हो रही कटौती का संकुल में अभिलेख संधारण, अध्यापकों की विभिन्न समस्याओं के निदान के लिए समस्या निदान शिविर लगवाने के गुजारिश से अवगत कराया समाधानकारी निर्देश जारी करके शिक्षा विभाग में व्याप्त कर्मचारी हित की कार्यवाहियों में भारी लेटलतीफी की परंपरा खत्म करने का आग्रह किया। प्रांतीय पदाधिकारी मुक्ति राय ,जिला संयोजक आरती सिंह, गणेश बादल और कमलेश ठाकुर सहित अन्य अध्यापक मौजूद रहे। संवाददाता आकाश कौरव

(राष्ट्रीय संभव सन्देश के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए Click यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, और यूट्यूब पर फ़ाॅलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp chat