मत भूलो लोगो तुम्हारा वजूद भी किसी नारी से है

65,390 total views, 1 views today

मत भूलो लोगो तुम्हारा वजूद भी किसी नारी से है

बहन बेटियां की इज्जत करो
क्या फर्क पड़ता है हमारी है या तुम्हारी है
लड़के घूमे बन दरिंदे, बनाते हवस का शिकार
सिर्फ लडकिया ही क्यों चारदीवारी मे है
इज्जत करो बहन बेटियों की चाहे हमारी है या तुम्हारी है
बेटियों को बोझ न समझे माँ बाप
बोझ समझती क्यों दुनिया सारी है
बहन बेटियो की इज्जत करो
चाहे हमारी है या तुम्हारी है
बेटियां सबके नसीब में नही होती
ये भी शायद किसी जन्म की उधारी है
इज्जत करो बहन बेटियो की
चाहे हमारी है या तुम्हारी
राह चलते दाग न लगने पाये
बहन बेटियां मौका नहीं जिम्मेदारी है
इज्जत करो बहन बेटियो की
चाहे हमारी है या तुम्हारी है
इज्जत करो बहन बेटियों की चाहे हमारी है या तुम्हारी है
एक नन्ही परी जरूर मुझे देना भगवान
लेखक – ठाकुर कैलाश सिंह

Loading...