दिवाली स्पेशल / देश की बॉडी बिल्डिंग चैम्पियन हैं ये, सजी-धजी मॉडल नहीं

खेल डेस्क. छरहरा शरीर, चाल-ढाल में नजाकत। सुंदरता के इन तय प्रतिमानों को तोड़ मस्क्युलर बॉडी बनाने वाली देश की टॉप बॉडी बिल्डर। इन्होंने जो रास्ता चुना, उस पर इनके घरवालों की तिरछी नजर और बाहरवालों की टिप्पणियों ने कांटे बिछाए थे, लेकिन इन्होंने सबको जवाब देने के बजाय खुद से यही कहा- सुंदरता की कोई गढ़ी हुई परिभाषा नहीं हो सकती। मैं अपने जिस तरीके में आत्मविश्वास के साथ अच्छा महसूस करूं, मेरे लिए वही सुंदरता।

इंदौर में एक कार्यक्रम में आईं इन बॉडी बिल्डर्स ने दैनिक भास्कर के निमंत्रण पर रूप चौदस के लिए त्योहार का साज-शृंगार करना स्वीकारा, ताकि हर लड़की की सोच खूबसूरती के तय प्रतिमानों से आगे बढ़ सके।

1. अदिती बम्ब: मॉडल बनना चाहती थीं। जिम में कोच ने बॉडी बिल्डिंग का सुझाव दिया। बाद में इसी में स्टेट लेवल पदक जीता।

2. संजना डालक: संजना को डांस का शौक था। कई बार फेल हुईं। टीवी पर बॉडी बिल्डिंग देखी और इससे जुड़ीं। देश में नंबर वन बनीं।

3. सुजाता सुजा: सुजाता एयर होस्टेस थीं। जिम कोच के कहने पर बॉडी बिल्डिंग शुरू की। एशियन चैंपियनशिप में रजत पदक जीता।

4. जमना देवी: दो बच्चों की मां जमना देवी ने एशियन लेवल पर रजत पदक जीता है। डाइट में रोज 30 अंडे खाती हैं।

5. मंजरी भावसार: बॉडी बिल्डर पति के कहने पर बॉडी बिल्डिंग की। परिवार विरोध में आया। पदक जीता तो नजरिया बदला।

6.सोनिया मित्रा: मां स्टेट लेवल से आगे नहीं बढ़ सकीं तो सोनिया ने बॉडी बिल्डिंग शुरू की। आज देश में उनका नाम है।

7. क्लॉडिया बेमोन: क्लॉडिया बाउंसर थीं। झगड़े होने पर पुरुषों को पीटती थीं। पुरुष बाउंसरों ने ही उन्हें बॉडी बिल्डिंग में उतारा।

WhatsApp chat