टीम इंडिया ने रचा इतिहास, पहली बार ऑस्ट्रेलिया में जीती सीरीज

भारत ने साल 1947 में पहली बार ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था लेकिन अब से पहले टीम इंडिया कभी भी ऑस्ट्रेलिया को उनके घर पर सीरीज नहीं हरा सकी थी। अब विराट कोहली की कप्तानी में टीम ने इतिहास रच दिया है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई चार मैचों की टेस्ट सीरीज को भारतीय टीम ने 2-1 से अपने नाम कर इतिहास रच दिया। ये पहला मौका है जब भारत ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाब रहा है। भारत ने पहली बार साल 1947 में ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था और ये दौरा भारत का 12वां ऑस्ट्रेलियाई दौरा था। भारत के लिए ऑस्ट्रेलिया में जीत हासिल करना कभी भी आसान नहीं रहा और लगातार 11 बार ऑस्ट्रेलिया दौरा करने के बाद भी भारत वहां एक बार भी सीरीज नहीं जीत सका था।

लेकिन चौथा टेस्ट जैसे ही ड्रॉ घोषित हुआ वैसे ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया में परचम लहरा दिया। भारतीय टीम की ये जीत कई मायनों में बेहद खास है। क्योंकि टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया फतह करने में 71 साल, 12 दौरे और 12 कप्तान बदलने पड़े हैं। विराट कोहली भारत ऑस्ट्रेलिया में भारत की कप्तानी करने वाले 13वें कप्तान हैं।

आपको ये भी बता दें कि SENA देशों में (दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड) में भारत साल 2009 के बाद कोई टेस्ट सीरीज जीता है। इन देशों में सीरीज जीतने की बात की जाए तो भारत ने आखिरी बार न्यूजीलैंड में साल 2009 में सीरीज जीती थी। इसके बाद से ही भारत इन देशों में सीरीज नहीं जीत सका है।

SENA देशों की बात की जाए तो भारत अब इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीत चुका है और अब सिर्फ दक्षिण अफ्रीका ही ऐसा देश रह गया है जहां भारत अब तक सीरीज अपने नाम नहीं कर सका है। इसके अलावा भारत एशिया का पहला देश है जिसने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीती है। आपको एक और दिलचस्प आंकड़ा बता दें कि किसी भी एशियाई देश को ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने में 71 साल, 31 सीरीज, 98 टेस्ट लग गए। इस दौरान 272 खिलाड़ी और 29 कप्तानों ने ऑस्ट्रेलिया में अपनी किस्मत आजमाई लेकिन सफलता विराट कोहली को हाथ लगी।

चौथे टेस्ट मैच की बात करें तो भारत ने अपनी पहली पारी 7 विकेट के नुकसान पर 622 रनों पर घोषित कर दी थी। भारत की तरफ से चेतेश्वर पुजारा ने (193), ऋषभ पंत ने (159), रविंद्र जडेजा ने (81), मयंक अग्रवाल ने (77) रनों की पारी खेली थी। जवाब में भारतीय गेंदबाजों ने भी शानदार गेंदबाजी की और ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 300 पर समेट कर उन्हें फॉलोऑन खेलने पर मजबूर कर दिया। भारत चौथे टेस्ट को भी जीतने के करीब नजर आ रहा था लेकिन चौथे और पांचवें दिन जमकर बारिश हुई और इस वजह से मुकाबला ड्रॉ घोषित कर दिया गया।

WhatsApp chat